ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनौकरी के बहाने युवती को लेकर गई सहेली, प्रेमी ने हत्या के बाद किया अंतिम संस्कार; पुलिस को बताई चौंकाने वाली वजह

नौकरी के बहाने युवती को लेकर गई सहेली, प्रेमी ने हत्या के बाद किया अंतिम संस्कार; पुलिस को बताई चौंकाने वाली वजह

गाजियाबाद में एक युवती को उसकी सहेली नौकरी के बहाने घर से ले गई। इसके बाद प्रेमी ने हत्या के बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया। गाजियाबाद पुलिस ने दोस्त को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है।

नौकरी के बहाने युवती को लेकर गई सहेली, प्रेमी ने हत्या के बाद किया अंतिम संस्कार; पुलिस को बताई चौंकाने वाली वजह
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,ट्रांस हिंडनFri, 09 Feb 2024 07:29 AM
ऐप पर पढ़ें

नौकरी के बहाने घर से ले जाकर युवती की सहेली और एक युवक ने हत्या कर दी। आरोपियों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया। इसके बारे में तीन फरवरी को परिजनों को पता चला। मामले में गाजियाबाद पुलिस ने दोस्त को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है। अर्थला निवासी महिला ने बताया कि 12 जनवरी को बेटी की सहेली रिंकी घर से उसे अर्थला में नौकरी के बहाने ले गई थी। दोपहर बाद उन्होंने फोन किया तो बेटी ने नोएडा जाने की बात कही। शाम को वह बोली कि तीन-चार सहेलियों संग नोएडा आई हूं और रात में यहीं रुकूंगी। रात में उसका फोन बंद हो गया। 

सुबह फोन करने पर उनका नंबर ब्लॉक कर दिया गया। उन्हें लगा कि बेटी वहीं रुककर नौकरी कर रही है, इसलिए वह फोन का इंतजार करती रहीं। तीन फरवरी को अनजान नंबर से फोन आया। फोनकर्ता ने कहा कि मैं राजू बोल रहा हूं। प्रताप नगर मेट्रो स्टेशन दिल्ली के पास अपनी बेटी से मिल लो। वह पहुंचीं तो राजू उन्हें एक मकान में ले गया, जहां बताया कि तुम्हारी बेटी बच्चे को जन्म देते समय मर गई। 

उन्होंने कहा कि मेरी बेटी की शादी भी नहीं हुई तो राजू और उसके परिजन समेत 15 लोगों ने हमला कर दिया। आरोपियों ने कहा कि हमने उसे मार दिया है और शिकायत की तो तुम्हें भी मार देंगे। वहां से लौटने के बाद उन्होंने थाना साहिबाबाद में शिकायत की तो पुलिस ने राजू को पकड़ लिया, लेकिन उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की। इस पर उन्होंने एडिशनल सीपी के कार्यालय में शिकायत दी तो रिपोर्ट दर्ज की गई।

आरोपी बोला, घर वालों ने युवती को निकाला था

डीसीपी ट्रांस हिंडन निमिष पाटील ने बताया कि आरोपी राजू को गिरफ्तार कर लिया है। वह अर्थला का रहने वाला है। छानबीन में पता चला है कि युवती गर्भवती थी और अस्पताल में मृत अवस्था में लाई गई थी। अधिक खून बहने से मौत की बात सामने आई है। राजू का कहना है कि उसके युवती से संबंध थे और घर वालों ने 12 जनवरी को युवती को घर से निकाल दिया था। इसीलिए मौत के बाद उसने परिजनों को नहीं बताया और बिना पोस्टमार्टम कराए अंतिम संस्कार कर दिया। डीसीपी का कहना है कि अब तक सहेली रिंकी की भूमिका सामने नहीं आई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें