ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में एक और भीषण अग्निकांड, इन्वर्टर में आग लगने से 4 की मौत; परिवार ही खत्म

दिल्ली में एक और भीषण अग्निकांड, इन्वर्टर में आग लगने से 4 की मौत; परिवार ही खत्म

दिल्ली में एक बार फिर भीषण अग्निकांड हुआ है। प्रेमनगर में एक घर में आग लगने से चार लोगों की मौत हो गई। धुएं में दम घुटने से पति-पत्नी और उनके दो बेटों की जान चली गई। आग इन्वर्टर में लगी थी।

दिल्ली में एक और भीषण अग्निकांड, इन्वर्टर में आग लगने से 4 की मौत; परिवार ही खत्म
Sudhir Jhaहिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 25 Jun 2024 09:04 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में एक बार फिर भीषण अग्निकांड हुआ है। बाहरी दिल्ली के प्रेमनगर में एक घर में आग लगने से चार लोगों की मौत हो गई। धुएं में दम घुटने से पति-पत्नी और उनके दो बेटों की जान चली गई। इन्वर्टर से शुरू हुई आग दूसरे सामानों तक फैली और धुएं ने पूरे परिवार की सांस रोक दी। 

घटना मंगलवार तड़के की है। करीब 3:30 बजे प्रेम नगर के एक मकान में आग लग गई। शुरुआती जानकारी के मुताबिक आग सबसे पहले पहली मंजिल पर रखे इन्वर्टर में लगी और फिर लपटें सोफे तक पहुंच गई। आग फैलने से ऊपरी मंजिल तक धुआं भर गया। ऊपर की मंजिल पर सो रहे पूरे परिवार की मौत हो गई। 

मृतकों की पहचान हीरा सिंह (48 साल) उनकी पत्नी नीतू सिंह, बेटे रोबिन सिंह (22) और लक्षय (21) के रूप में हुई। दिल्ली फायर सर्विस से मिली जानकारी के मुताबिक प्रेम नगर के जेड ब्लॉक से आग लगने की सूचना मिली थी। मौके पर दमकल की दो गाड़ियां भेजी गईं। दमकलकर्मियों ने मकान में फंसे लोगों को निकाला और अस्पताल पहुंचाया। लेकिन वहां सभी चार लोगों को मृत घोषित कर दिया गया।

हाल के दिनों में दिल्ली में आग लगने की कई भीषण घटनाएं सामने आईं हैं, जिसमें बड़ी संख्या में लोगों की जान गई है। इस साल 26 मई तक दिल्ली में झुलसने से 55 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और 300 से अधिक लोग घायल हो गए। दिल्ली अग्निशमन सेवा (डीएफएस) के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी में आग में झुलसने से 16, फरवरी में 16, मार्च में 12, अप्रैल में चार और 26 मई तक सात लोगों की मौत हो गई। आग लगने की घटनाओं के कारण जनवरी में 51, फरवरी में 42, मार्च में 62, अप्रैल में 78 और 26 मई तक 71 लोग घायल हुए। एक जनवरी से 26 मई तक दिल्ली अग्निशमन सेवा को आग लगने की 8,912 सूचनाएं मिलीं। 2023 में इसी अवधि के दौरान 36 लोगों की जान गई थी।