ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनोएडा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, पेचकस गैंग के 4 बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार, लिफ्ट देकर बनाते थे शिकार

नोएडा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, पेचकस गैंग के 4 बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार, लिफ्ट देकर बनाते थे शिकार

नोएडा पुलिस ने एनसीआर में सक्रिय 'पेचकस गैंग' (Pechkas Gang) के चार सदस्यों को रविवार सुबह ग्रेटर नोएडा में हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। यह गैंग काफी समय से पुलिस...

नोएडा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, पेचकस गैंग के 4 बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार, लिफ्ट देकर बनाते थे शिकार
Praveen Sharmaग्रेटर नोएडा। वरिष्ठ संवाददाताSun, 17 Oct 2021 03:25 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

नोएडा पुलिस ने एनसीआर में सक्रिय 'पेचकस गैंग' (Pechkas Gang) के चार सदस्यों को रविवार सुबह ग्रेटर नोएडा में हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। यह गैंग काफी समय से पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था। मुठभेड़ के दौरान पैरों में गोली लगने से चारों बदमाश घायल हो गए। ये बदमाश लिफ्ट देकर लूटपाट करते थे और विरोध करने पर पेचकस मारकर घायल कर देते थे। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, रविवार को ग्रेटर नोएडा में चुहड़पुर अंडरपास के पास बदमाशों और बीटा 2 पुलिस के बीच मुठभेड़ हो गई। इस दौरान दोनों ओर से कई राउंड फायरिंग की गई।अंतत: पैरों में गोली लगने से बदमाश आनंद वर्मा निवासी रेवाड़ी, शिव कुमार वर्मा निवासी डिबाई, बबलू वर्मा निवासी मायचा व दीपक वर्मा घायल हो गए। घायल बदमाशों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है। ये बदमाश कार में लिफ्ट देकर लूटपाट करते थे। एटीएम से रुपये निकलवा लेते थे। विरोध करने पर पेचकस मारकर घायल कर देते थे।

इन बदमाशों ने सूरजपुर, नॉलेज पार्क आदि क्षेत्रों में हुई लूट की कई घटनाओं में संलिप्त होने की बात स्वीकार की है। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये बदमाश इससे पहले मथुरा, राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा में जेल जा चुके हैं। इनके पास से अवैध हथियार, नगदी, मोबाइल फोन, पेचकस, हथोड़ा, प्लास और एक कार बरामद हुई है। 

अपर पुलिस आयुक्त (कानून व्यस्था) लव कुमार ने बताया कि पूछताछ के दौरान गिरफ्तार बदमाशों ने बताया कि ये लोग रात 11 बजे से दो बजे तक अपनी कार लेकर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विभिन्न शहरों में घूमते थे। सड़क पर वाहन के इंतजार में खड़े लोगों को ये कार में लिफ्ट देते तथा उनके साथ मारपीट कर पेचकस से हमला करते थे। उन्होंने बताया कि ये बदमाश पीड़ितों के पास रखी नकदी और मोबाइल फोन समेत अन्य सामान लूट लेते थे और उनसे एटीएम कार्ड ले लेते थे तथा उसका पिन नंबर बताने को कहते थे। ये बदमाश पीड़ितों पर पेचकस और हथौड़े से हमला कर उन्हें एटीएम कार्ड का पिन नंबर बताने के लिए मजबूर करते थे।

लव कुमार ने बताया कि इन बदमाशों ने इस तरह की 50 से अधिक जघन्य वारदात को अंजाम देने की बात कबूल की है। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने पेचकस गैंग के बदमाशों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को 50 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें