ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRचार मंजिला इमारत में लगी आग, जान बचाने को बालकनी से कूदे लोग; 5 के पैर टूटे, 14 अस्पताल में भर्ती

चार मंजिला इमारत में लगी आग, जान बचाने को बालकनी से कूदे लोग; 5 के पैर टूटे, 14 अस्पताल में भर्ती

दिल्ली के पालम के राजनगर में देर रात एक चार मंजिला इमारत में आग लग गई। धुआं भरने और गेट बंद होने से कई नागरिक इसमें फंस गए थे। लोगों ने जान बचाने को छलांग लगा दी। जिससे पांच के पैर टूट गए।

चार मंजिला इमारत में लगी आग, जान बचाने को बालकनी से कूदे लोग; 5 के पैर टूटे, 14 अस्पताल में भर्ती
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 08 Dec 2023 09:41 AM
ऐप पर पढ़ें

पालम के राजनगर पार्ट-2 में बुधवार देर रात एक चार मंजिला इमारत में आग लग गई। हादसे में 14 लोग घायल हो गए। जिन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है। इमारत में रहने वाले कई लोगों ने अपनी जान बचाने के लिए बालकनी से छलांग लगा दी। जिसके चलते कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं। दमकल की 14 गाड़ियों ने करीब साढ़े चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया है। हादसे में एक दर्जन से ज्यादा वाहन जलकर खाक हो गए। 

प्राथमिक जांच में आशंका जताई जा रही है कि इमारत की पार्किंग में शॉर्ट सर्किट के चलते आग लगी। राज नगर पार्ट-2 में चार मंजिला वैष्णवी अपार्टमेंट है। इसमें कुल 16 फ्लैट हैं। पहली मंजिल पर रहने वाली आयुषी साहनी ने बताया कि देर रात पार्किंग में आग लगी थी जिसने पूरी इमारत को चपेट में ले लिया। इमारत की पार्किंग, पहली और दूसरी मंजिल पर आग फैलने के चलते यहां रहने वाले लोग अपने घरों के गेट नहीं खोल पा रहे थे। जिसके चलते घरों में धुआं भरने लगा।

इलेक्ट्रॉनिक गेट बंद होने से फंसे

लोगों ने बताया कि इमारत का गेट पार्किंग में पीछे की साइड बना हुआ है। ऐसे में पार्किंग में आग लगने के बाद बाहर निकलने का रास्ता बंद हो गया। साथ ही, इमारत में ऊपर जाने के लिए जो गेट लगाया गया है वह इलेक्ट्रॉनिक गेट है। ऐसे में आग लगने के चलते वह गेट बंद हो गया। जिसके चलते नीचे से इमारत से निकलना असंभव हो गया। आग ने इमारत को चपेट में ले लिया।

लकड़ी की सीढ़ियों के रास्ते नीचे उतरे

इमारत में पहली मंजिल पर रहने वाले एक शख्स ने आग लगने की घटना के बाद लकड़ी की सीढ़ियों का इंतजाम किया। इन सीढ़ियों को इमारत की सभी फ्लोर की बालकनी में लगाया गया और फिर धीरे-धीरे ऊपर से लोगों को नीचे उतारने का काम किया गया। दमकल और पुलिस के पहुंचने से पहले इमारत में फंसे ज्यादातर लोग अपने आप ही इमारत से बाहर निकलने में कामयाब हो गए थे।

अस्पताल में 14 भर्ती, पांच लोगों के पैर टूटे

हादसे में कई लोगों ने आग बढ़ने के बाद इमारत की पहली और दूसरी मंजिल से छलांग लगा दी। जिसके चलते वह गंभीर रूप से घायल हो गए। अस्पताल में भर्ती किए गए 14 लोगों में 5 लोगों के हाथ और पैर टूटे हैं और अन्य लोगों को झुलसने के चलते भर्ती किया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें