ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRगाजियाबाद: वसुंधरा में एसी फटने से दो मंजिला घर में लगी आग, धूं-धूंकर जला मकान; फायर फाइटर्स ने बुझाई आग

गाजियाबाद: वसुंधरा में एसी फटने से दो मंजिला घर में लगी आग, धूं-धूंकर जला मकान; फायर फाइटर्स ने बुझाई आग

गाजियाबाद के वसुंधरा में एक दो मंजिला मकान में एसी फटने से आग लग गई। आग की लपटों ने दूसरी मंजिल को भी चपेट में ले लिया। फायर फाइटर्स ने तुरंत एक्शन लेकर आग पर काबू पा लिया। किसी तरह की जनहानि नहीं हुई

गाजियाबाद: वसुंधरा में एसी फटने से दो मंजिला घर में लगी आग, धूं-धूंकर जला मकान; फायर फाइटर्स ने बुझाई आग
ghaziabad fire ac explosion
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,गाजियाबादThu, 06 Jun 2024 09:25 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के लाजपत नगर में आंखों के एक अस्पताल में एसी में शॉर्ट सर्किट से आग लगने के एक दिन बाज गाजियाबाद के वसुंधरा में एसी फटने से मकान में आग लग गई। आग दो मंदिला मकान में लगी थी। पहली मंजिल पर लगे एसी फटने की वजह से उठी आग की लपटों ने दूसरी मंजिल को भी अपनी चपेट में ले लिया। गनीमत रही कि इसमें कोई जनहानि नहीं हुई। घटना की जानकारी फायर स्टेशन को दी गई। जिसके बाद दो फायर टेंडर आग बुझाने के लिए मौके पर पहुंचे। फायर फाइटर्स ने आग पर काबू पा लिया है।

जानकारी के अनुसार, वसुंधरा के सेक्टर-1 स्थित घर में एसी फटने से आग लग गई। सुबह 5.30 बजे सूचना मिलते ही दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग बुझाई। मकान के पहले फ्लोर पर आग लगी थी जिसकी चपेट में दूसरी मंजिल भी आ गई। अग्निशमन अधिकारियों की तत्परता की वजह से आग पर काबू पा लिया गया और जान-माल का नुकसान नहीं हुआ। फायर फाइटर्स ने त्वरित कार्यवाई  करके आसपास के घरों को भी सुरक्षित बचा लिया। हालांकि आग के कारण कुछ सामान जल गया।

दो फायर टेंडर ने बुझाई आग

चीफ फायर अधिकारी राहुल कुमार ने कहा, 'आज सुबह करीब 5:30 बजे वैशाली फायर स्टेशन को सूचना मिली कि वसुंधरा में दो मंजिला इमारत में आग लग गई है। दो दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया... आग एसी यूनिट में विस्फोट के कारण लगी थी। एक घंटे में आग पर काबू पा लिया गया। घटना में कोई हताहत नहीं हुआ।'

आंखों के अस्पताल में लगी आग

दिल्ली के लाजपत नगर इलाके में स्थित आंखों के एक निजी अस्पताल में बुधवार को एसी में शॉर्ट सर्किट के चलते भीषण आग लग गई। गनीमत रही कि हादसे के वक्त अस्पताल में ज्यादा लोग मौजूद नहीं थे। आग लगने की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस, कैट्स एंबुलेंस के अलावा दमकल विभाग की 20 गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर करीब दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। अस्पताल के कैफेटएरिया और अस्पताल के पीछे स्थित आवासीय मकानों के आसपास खड़े पांच दोहपहिया वाहन जलकर खाक हो गए।