ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRगर्लफ्रेंड को लेकर झगड़ा, दिल्ली-जयपुर हाईवे पर खूनी खेल; दोस्त को चाकू से गोदकर मार डाला

गर्लफ्रेंड को लेकर झगड़ा, दिल्ली-जयपुर हाईवे पर खूनी खेल; दोस्त को चाकू से गोदकर मार डाला

फरीदाबाद में गर्लफ्रेंड को लेकर हुआ झगड़ा इतना बढ़ा की एक शख्स की जान चली गई। तीन दोस्तों ने अपने ही दोस्त की सबवे में चाकू से वार करके जान ले ली। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई।

गर्लफ्रेंड को लेकर झगड़ा, दिल्ली-जयपुर हाईवे पर खूनी खेल; दोस्त को चाकू से गोदकर मार डाला
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,गुरुग्रामTue, 30 Jan 2024 08:58 AM
ऐप पर पढ़ें

फरीदाबाद में रविवार देर शाम गर्लफ्रेंड को लेकर दोस्तों के दो गुटों के बीच हुई खूनी झड़प में 21 साल के एक युवक की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। यह घटना दिल्ली-जयपुर हाईवे पर हरि नगर के पास सब-वे में हुई। घटनास्थल के पास लगे कैमरे में पूरा घटनाक्रम कैद हो गया। पुलिस ने सोमवार मृतक के भाई की शिकायत पर सेक्टर-37 थाने में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान बिहार के बेगुसराय निवासी 21 वर्षीय आकाश के रूप में हुई है, जो नाहरपुर रूपा गांव में अपने चचेरे भाई के साथ रहता था। उन्होंने बताया कि वह इन दिनों प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग ले रहा था। मृतक के चचेरे भाई और बिहार के मूल निवासी सूरज द्वारा दर्ज की गई शिकायत में बताया कि आकाश उसके मामा का बेटा था। साल 2015 तक प्रथम, गौरव तिवारी, कृष्णकांत उर्फ कृष्णा, अंजलि और खुशबू के साथ मैरीगोल्ड पब्लिक स्कूल में पढ़ रहा था। 

हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद सभी स्कूल से अलग हो गए लेकिन सभी दोस्त संपर्क में थे। जबकि कृष्णा ने आठवीं कक्षा के बाद स्कूल छोड़ दिया था। प्रथम की दोस्ती अंजलि से है, जबकि गौरव तिवारी की खुशबू से। पुलिस ने बताया कि करीब 6 महीने पहले ब्रेकअप के बाद कृष्णा और खुशबू दोस्त बन गए। इस वजह से कृष्णा और गौरव में गर्लफ्रेंड को लेकर विवाद शुरू हो गया।

प्रथम में आकाश को फोन कर बुलाया

सूरज ने पुलिस को बताया कि रविवार को शाम के लगभग छह बजे थे। जब हम घर जा रहे थे, तो कृष्णा ने प्रथम के मोबाइल पर फोन किया और उसे सरस्वती एन्क्लेव में मिलने के लिए कहा। प्रथम ने इससे इनकार कर दिया। प्रथम ने आकाश को फोन कर बुलाया। सभी हरि नगर सब-वे पर पहुंचे और कुछ देर बाद कृष्णा अपने दोस्तों के साथ पहुंचा। उनके पहुंचते ही पहले बहस हो गई और उन पर हमला बोल दिया गया। कृष्णा के दो दोस्तों ने आकाश को पकड़ लिया चाकू से कई वार किए। फिर सब-वे के अंदर आकाश को घायल अवस्था में छोड़ भाग गए।

पुलिस ने तीन आरोपी पकड़े

पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि शिकायत के बाद रविवार देर रात सेक्टर 37 पुलिस स्टेशन में कृष्णा और उसके साथियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147 (दंगा), 148 (गैरकानूनी सभा), 302 (हत्या) और हथियार अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई। इसके बाद तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें मूल रूप से फरीदाबाद की सैनिक कॉलोनी निवासी कृष्णा जो फिलहाल गुरुग्राम के सरस्वती एनक्लेव में रहता है शामिल है। साथ ही दो अन्य आरोपी रेवाड़ी के गांव उड़िया खुर्द निवासी सचिन उर्फ कालू और रेवाड़ी के उस्मापुर निवासी सचिन को गिरफ्तार किया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें