ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदर्दनाक : दिल्ली में बेटे को स्कूल छोड़ने जा रहे पिता की गाय के हमले में मौत, खड़े देखते रहे लोग

दर्दनाक : दिल्ली में बेटे को स्कूल छोड़ने जा रहे पिता की गाय के हमले में मौत, खड़े देखते रहे लोग

वीडियो में देखा जा सकता है कि जब गाय हमला कर रही थी तो बेटे ने लोगों से मदद की गुहार लगाई। वह खुद भी गाय को भागने का प्रयास कर रहा था। बच्चे को देखकर वहां खड़े लोग आगे आए

दर्दनाक : दिल्ली में बेटे को स्कूल छोड़ने जा रहे पिता की गाय के हमले में मौत, खड़े देखते रहे लोग
Swati Kumariहिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 24 Feb 2024 05:38 AM
ऐप पर पढ़ें

दक्षिणी दिल्ली के देवली-खानपुर रोड पर एक ह्रदय विदारक घटना सामने आई है। गुरुवार सुबह बेटे को स्कूल बस तक छोड़ने जा रहे एक व्यक्ति को गाय ने कुचलकर मार डाला। पास खड़ा बेटा लोगों से मदद की गुहार लगाता रहा। इस दौरान दो युवकों ने बचाने की कोशिश की, लेकिन गाय ने उन पर भी हमला कर दिया। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 

पुलिस उपायुक्त अंकित चौहान ने बताया कि 45 वर्षीय सुभाष झा, पत्नी और दो बेटों के साथ देवली इलाके में रहते थे। वह मूलत: बिहार के रहने वाले थे। वह फाइनेंस का काम करते थे। सुभाष के भाई मनोरंजन झा ने बताया कि गुरुवार को सुभाष अपने छोटे बेटे को बस स्टैंड तक छोड़ने गए थे। यहां पर स्कूल बस बच्चों को लेने आती है। सुभाष स्टैंड पर बस आने का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान गाय ने उन पर हमला कर दिया। 

वह बचने के लिए भागे तो गाय ने उन्हें टक्कर मारकर फिर गिरा दिया। इसके बाद गाय ने उन पर लगातार हमला किया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल होकर बेसुध हो गए। लोगों ने उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी मौत हो गई। तिगड़ी थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस उपायुक्त का कहना है कि पुलिसकर्मी गाय के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं। अगर उसका मालिक मिलता है तो उस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

बेटे ने मदद की गुहार लगाई
वीडियो में देखा जा सकता है कि जब गाय हमला कर रही थी तो बेटे ने लोगों से मदद की गुहार लगाई। वह खुद भी गाय को भागने का प्रयास कर रहा था। बच्चे को देखकर वहां खड़े लोग आगे आए और उन्होंने गाय को भागने की कोशिश की। लेकिन, गाय ने सुभाष को नहीं छोड़ा। एक शख्स ने लकड़ी का इस्तेमाल कर गाय को हटाया और सुभाष को अपनी ओर खींच लिया। इसके बाद गाय ने उस पर भी हमला कर दिया। वह पीछे हट गया तो गाय ने सुभाष पर दोबारा हमला कर दिया। 

हार्ट और पसलियों में चोट के चलते दम तोड़ा 
सुभाष का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर बालाजी ने बताया कि उनकी मौत हार्ट और पसलियों में चोट के चलते हुई है। डॉक्टर ने बताया कि गाय के हमले में उनके सिर और सीने में गंभीर चोट आई थी। लगातार वार के चलते उसके सीने की सभी पसलियां टूट गई थीं। इसके चलते शरीर में ब्लीडिंग हो गई थी। 

डेयरी के पास हुआ हादसा
सूत्रों ने बताया कि घटनास्थल के पास में ही डेयरी चलती है। एक साल पहले निगम के अधिकारियों ने यहां विशेष ड्राइव चलाई थी। इन सभी डेयरियों को हटाया था, लेकिन कुछ दिन बाद लोगों ने फिर से यहां डेयरी खोल ली। फिलहाल, करीब 10 से 15 डेयरी खुली हुई हैं। ये सभी अवैध हैं। इसके बावजूद निगम अधिकारी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। 

दूध निकालकर छोड़ देते हैं मालिक
दिल्ली के कई इलाकों में लोग डेयरी खोलकर या अपने घर से ही दूध बेचने का काम करते हैं। इनमें से बहुत से लोग सुबह शाम गायों का दूध निकालने के बाद उन्हें बाहर छोड़ देते हैं। ये गाय भोजन की तलाश में गलियों में या फिर कचरों के ढेर के पास पहुंच जाती हैं। कई बार आक्रामक होकर लोगों पर हमले भी कर देती हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें