ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRप्रॉपर्टी को लेकर बाप-बेटे में होती थी लड़ाई, गुस्से में छड़ी और ईंट से हमला करके मार डाला; दिल्ली के नंदनगरी की घटना

प्रॉपर्टी को लेकर बाप-बेटे में होती थी लड़ाई, गुस्से में छड़ी और ईंट से हमला करके मार डाला; दिल्ली के नंदनगरी की घटना

दिल्ली के नंद नगरी में एक बेटे ने अपने पिता की हत्या कर दी। दोनों में शराब और प्रॉपर्टी के बंटवारे को लेकर अक्सर लड़ाई होती थी। गुस्से में बेटे ने ईंट-छड़ी से हमला करके पिता को मार डाला।

प्रॉपर्टी को लेकर बाप-बेटे में होती थी लड़ाई, गुस्से में छड़ी और ईंट से हमला करके मार डाला; दिल्ली के नंदनगरी की घटना
rajasthan minor sisters die by suicide after allegedly raped by classmates
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 13 Jun 2024 01:29 PM
ऐप पर पढ़ें

एक पिता को अपने बेटे को शराब पीने से रोकने की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। लड़ाई के बाद बेटे ने पिता की हत्या कर दी। दिल्ली पुलिस ने बुधवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के नंद नगरी में अपने पिता की हत्या के आरोप में 35 साल के बेटे को गिरफ्तार किया है। 65 साल के पीड़ित केहर सिंह अपने बेटे अरुण के साथ रहता था, जो जीटीबी अस्पताल में नर्सिंग असिस्टेंट है। पीड़ित की चार बेटियां शादीशुदा हैं और अपने पतियों के साथ रहती हैं। जबकि उसका बड़ा बेटा राम बहादुर मौजपुर में रहता है।

अरुण के भाई राम बहादुर ने बुधवार दोपहर करीब 3.20 बजे पुलिस कंट्रोल रूम में फोन किया। नॉर्थ ईस्ट के डिप्टी पुलिस कमिश्नर जॉय तिर्की ने बताया, 'मौके पर पहुंचने पर पता चला कि घर ढाई मंजिला था। ग्राउंड फ्लोर पर ताला लगा था और सीढ़ियों का गेट भी अंदर से बंद था।' तिर्की ने बताया, 'एक शख्स (अरुण) बालकनी में था और कह रहा था कि उसके पिता 'ऊपर चले गए हैं'। शुरू में वह दरवाजा खोलने को तैयार नहीं था। काफी समझाने के बाद उसने दरवाजा खोला। दूसरी मंजिल पर एक बुजुर्ग का शव पड़ा था, जिसके सिर पर कई चोटें थीं।'

पुलिस को शव के पास में एक बांस की छड़ी, ईंट और एक पत्थर मिला है, जो खून से सना हुआ था। अधिकारी ने कहा कि अरुण नशे में था और उसके शरीर पर खून के धब्बे थे और ऐसा लग रहा था कि उसने खुद पर पानी डाला था। पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज किया। शुरुआती जांच में पता चला कि अरुण और उसके पिता के बीच अक्सर झगड़ा होता था। खासतौर से अरुण की शराब की लत और संपत्ति में हिस्सा मांगने को लेकर।

पुलिस ने बताया कि केहर सिंह संपत्ति को अपनी बेटियों और बड़े बेटे के बीच बांटना चाहता था, जिसके कारण उसके और अरुण के बीच तनाव बढ़ गया। हत्या वाले दिन, पिता और बेटे के बीच हुई कहासुनी हिंसक हो गई, जिसमें अरुण ने अपने पिता पर बांस की छड़ी और ईंटों से हमला कर दिया। इसके परिणामस्वरूप केहर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। डिस्ट्रिक्ट मोबाइल क्राइम फोरेंसिक टीमों द्वारा निरीक्षण के बाद शव को जीटीबी अस्पताल भेज दिया गया। पुलिस अपराध की कड़ियों को एक साथ जोड़ने के लिए अरुण से आगे की पूछताछ कर रही है।