ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRFarmer Protest: आंसू गैस का जवाब में किसानों ने मिर्च पाउडर डालकर जलाई पराली, 12 पुलिसवाले घायल

Farmer Protest: आंसू गैस का जवाब में किसानों ने मिर्च पाउडर डालकर जलाई पराली, 12 पुलिसवाले घायल

पुलिस सूत्रों ने बताया कि दिल्ली-हरियाणा सीमा पर कई लेयर का सुरक्षा घेरा बनाया गया है। दिल्ली पुलिस किसानों को सीमाओं पर ही रोकने के लिए तैयार है।

Farmer Protest: आंसू गैस का जवाब में किसानों ने मिर्च पाउडर डालकर जलाई पराली, 12 पुलिसवाले घायल
Swati Kumariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 09:38 PM
ऐप पर पढ़ें

किसानों का दिल्ली में प्रवेश रोकने के लिए सीमा पर अर्धसैनिक बलों की भारी संख्या में तैनाती की गई है। प्रदर्शनकारियों और उनके वाहन को राजधानी में प्रवेश की अनुमति नहीं है। इसलिए पुलिस और अर्धसैनिक बलों का इलाके में जमावड़ा लग गया है। वहीं, किसान दिल्ली में घुसने की कोशिश कर रहे हैं। तो हरियाणा पुलिस आंसू गैस के गोलें छोड़े। लेकिन किसानों ने पुलिस से बचने के लिए एक नया तरीका अपनाया है। पंजाब को हरियाणा से जोड़ने वाले खनौरी बॉर्डर पर किसान खेतों से पराली निकालकर उनमें मिर्च पाउडर डालकर जला रहे हैं। ऐसे में पुलिसकर्मीयों के लिए बहुत मुश्किलें हो रही हैं। 

हरियाणा पुलिस की एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बुधवार को किसान आंदोलन के दौरान दाता सिंह-खनौरी बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों ने पराली में मिर्च पाउडर डालकर आग लगा दी। इसके साथ ही पुलिस का चारों तरफ से घेराव किया। पुलिस पर पथराव के साथ-साथ लाठी से हमला किया गया। गंडासे का भी इस्तेमाल करते हुए पुलिसकर्मियों पर हमला किया गया। पुलिस ने दावा किया कि किसानों ने गंडासे का इस्तेमाल करते हुए पुलिसकर्मियों पर हमला किया। इसमें करीब 12 पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि दिल्ली-हरियाणा सीमा पर कई लेयर का सुरक्षा घेरा बनाया गया है। दिल्ली पुलिस किसानों को सीमाओं पर ही रोकने के लिए तैयार है। सुरक्षा कर्मियों को एक भी प्रदर्शनकारी को राजधानी में प्रवेश करने की अनुमति नहीं देने का निर्देश दिया गया है। इसके मद्देनजर ही पुलिस लगातार सीमावर्ती इलाकों खासतौर से सिंघु बॉर्डर वाले इलाके में मॉक ड्रिल कर रही है। यहां पर आंसू गैस के 30 हजार गोलों का भंडारण किया गया है। 

सरहोल बॉर्डर पर दो लेन बंद करने से लंबा जाम लगा 
किसानों के दिल्ली कूच को देखते हुए दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेसवे सरहोल सीमा पर दिल्ली पुलिस की बुधवार सुबह एक बार फिर सख्ती दिखी। सीमा पर दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेसवे से गुरुग्राम से दिल्ली जाने वाली तीन लेन में से पुलिस ने दो को बंद कर दिया। इस दौरान एक लेन से ही वाहनों को दिल्ली में प्रवेश करने की अनुमति दी गई। इसके साथ ही हाईवे से लगती से सर्विस लेन को भी बंद कर दिया गया। इस वजह से दिल्ली जाने वाले हजारों वाहन चालकों को घंटों जाम में फंसना पड़ा। जाम की वजह से एक्सप्रेसवे पर पांच किलोमीटर तक वाहनों की कतार लग गई। बता दें कि दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेसवे छह लेन का है। कापसहेड़ा सीमा और आया नगर सीमा पर भी बुधवार सुबह दिल्ली पुलिस मुस्तैद रही। गुरुग्राम से दिल्ली में प्रवेश करने वाले वाहन चालकों की गहनता से जांच के बाद ही प्रवेश मिला। इस कारण कापसहेड़ा और आया सीमा पर भी वाहन चालकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। यहां पर भी सुबह पीक आवर में वाहनों का दबाव होने के चलते आधे से एक किलोमीटर लंबा जाम भी लगा।

मार्ग पर वीडियोग्राफी की गई
दिल्ली पुलिस ने एहतियातन गुरुग्राम से लगते हुए सरहोल,आया नगर और कापसहेड़ा सीमा पर बुधवार सुबह आठ बजे से बैरिकेड लगाकर एक लेन को छोड़कर,सर्विस रोड और बाकी लेन को बंद कर दिया। गुरुग्राम से दिल्ली में प्रवेश करने वाले कर वाहन पर निगरानी हो रही थी। इसके साथ ही दिल्ली पुलिस वीडियोग्राफी भी करवा रही थी। इस कारण दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेसवे पर सुबह वाहनों का दबाव होने के चलते जाम लगना शुरू हो गया। लगभग पौने तीन घंटे के बाद एक्सप्रेसवे पर पांच किलोमीटर लंबा जाम गुरुग्राम से दिल्ली की तरफ लग गया।एक्सप्रेसवे पर जाम लगने के बाद सर्विस रोड पर भी वाहनों को जाम में फंसना पड़ा। लगभग चार घंटे तक हाईवे पर वाहन रेंग-रेंगकर चलते रहे।

गुरुग्राम पुलिस ने बैरिकेड हटवाए
एक्सप्रेसवे पर पांच किलोमीटर से ज्यादा लंबा जाम लगने के बाद गुरुग्राम पुलिस के ट्रैफिक इंस्पेक्टर सतीश डागर ने दिल्ली पुलिस के अधिकारियों से बातचीत की। उसके बाद पौने 11 बजे के लगभग दिल्ली पुलिस ने एक्सप्रेसवे के मुख्य कैरिज-वे से सभी बैरिकेड को हटवा लिया गया। दोपहर 12 बजे के बाद एक्सप्रेसवे पर हालात सामान्य हुए।

बैठक में जाने के लिए हुई देरी
डीएलएफ फेज-तीन निवासी चरणजीत सिंह ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे ऑफिस जाने के लिए निकला था। एक्सप्रेसवे पर लगे जाम के कारण बैठक में नहीं पहुंच पाया।ऑफिस भी पहुंचने में काफी समय लग गया।एडवाइजरी भी जारी नहीं की गई थी। सेक्टर-40 निवासी राजेंद्र पाल ने बताया किए क्सप्रेस-वे पर जाम लगा होने के कारण आज ऑफिस नहीं गए।घर से ही बुधवार को काम किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें