ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRकिसान दिल्ली कूच को तैयार, पुलिस के कड़े इंतजाम; दिल्ली-एनसीआर पर कितना पड़ेगा असर

किसान दिल्ली कूच को तैयार, पुलिस के कड़े इंतजाम; दिल्ली-एनसीआर पर कितना पड़ेगा असर

किसानों ने केंद्र के साथ वार्ता विफल रहने पर दिल्ली कूच का ऐलान किया है। जिसे लेकर पुलिस ने सुरक्षा के चाक चौबंद बंदोबस्त कर दिए हैं। वहीं किसान भी मॉडिफाई करके भारी मशीन ले आए हैं।

किसान दिल्ली कूच को तैयार, पुलिस के कड़े इंतजाम; दिल्ली-एनसीआर पर कितना पड़ेगा असर
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 09:48 AM
ऐप पर पढ़ें

केंद्र सरकार के साथ बातचीत विफल रहने पर किसानों ने बुधवार को दिल्ली कूच का ऐलान किया है। सुरक्षाकर्मियों और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच गतिरोध का असर दिल्ली-एनसीआर के ट्रैफिक पर पड़ सकता है। किसान फिलहाल पंजाब और हरियाणा की शंभू बॉर्डर पर हैं। उनके दिल्ली मार्च को लेकर पुलिस एक्शन मोड में है। सुरक्षा के चाक चौबंद बंदोबस्त किए गए। पुलिस की कोशिश किसी भी हाल में उन्हें राजधानी नहीं आने देने की है। इसलिए बैरिकेडिंग लगाकर चेकिंग की जा रही है। इसी बीच यूपी गेट पर आज सुबह से ही जाम लगना शुरू हो गया है।

पिछले हफ्ते भारी पुलिसबल की तैनाती के कारण शंभू बॉर्डर पार करने में विफल रहने के बाद, प्रदर्शनकारी किसान मंगलवार को भारी मशीनरी ले आए- जिसमें खुदाई करने वाली मशीनें और जेसीबी शामिल हैं। इन मशीनों के चालक केबिनों को रबर की गोलियों और बंदूक के छर्रों के प्रभाव को झेलने के लिए मॉडिफाई किया गया है। कई किसानों ने हजारों दंगा-रोधी ढालें ​​भी तैयार की हैं। इसके अलावा आंसू गैस के गोले के प्रभाव को कम करने के लिए गैस मास्क का प्रबंध किया है।

वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए भारी सामग्री से भरे शिपिंग कंटेनरों को तैनात किया है। 23 फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) सहित सरकार से कई मांगों को लेकर हजारों किसान 13 फरवरी से शंभू बॉर्डर पर डटे हुए हैं। किसान मजदूर मोर्चा के समन्वयक और किसान नेता सरवन सिंह पंधेर ने संवाददाताओं से कहा, '21 फरवरी को, हम शांतिपूर्वक दिल्ली की ओर अपना मार्च शुरू करेंगे। हम केंद्र से वार्ता करके हमारे मागों का हाल निकालने या बैरिकेड हटाकर हमें दिल्ली तक मार्च करने की अनुमति देने की अपील करते हैं।'

राजधानी में दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को तीन मुख्य बॉर्डर- सिंघु, टिकरी और गाजीपुर के अलावा हरियाणा और उत्तर प्रदेश से लगती उन सभी छोटी सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी है, जहां से किसान राजधानी में प्रवेश करने की कोशिश कर सकते हैं। दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, 'पिछले कुछ दिनों से जब बातचीत चल रही थी, सीमाओं पर कर्मियों की तैनाती कम कर दी गई थी, जबकि बैरिकेड्स, डंपर और कंटेनर जैसे फिक्स्चर हटाए नहीं गए थे। बुधवार को फिर से सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया जाएगा और सभी इकाइयां अलर्ट पर रहेंगी।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें