ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRElvish Yadav : थाईलैंड जा रहे एल्विश यादव को वॉन्टेड बता दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, फिर हुआ ऐसा

Elvish Yadav : थाईलैंड जा रहे एल्विश यादव को वॉन्टेड बता दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, फिर हुआ ऐसा

रेव पार्टी आयोजित करने और उसमें सांपों का जहर सप्लाई करने के आरोपों से घिरे यूट्यूबर एल्विश यादव (Elvish Yadav) को शनिवार देर दिल्ली एयरपोर्ट पर सुरक्षा कर्मियों ने रोक लिया गया।

Elvish Yadav : थाईलैंड जा रहे एल्विश यादव को वॉन्टेड बता दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, फिर हुआ ऐसा
Praveen Sharmaनई दिल्ली नोएडा। हिन्दुस्तानMon, 24 Jun 2024 06:05 AM
ऐप पर पढ़ें

रेव पार्टी आयोजित करने और उसमें सांपों का जहर सप्लाई करने के आरोपों से घिरे यूट्यूबर और बिग बॉस ओटीटी सीजन-2 के विजेता एल्विश यादव (Elvish Yadav) को शनिवार देर दिल्ली एयरपोर्ट पर सुरक्षा कर्मियों ने रोक लिया।सुरक्षा कर्मियों ने नोएडा पुलिस का वॉन्टेड बताते हुए एल्विश यादव को थाईलैंड जाने की अनुमति नहीं दी।

एल्विश ने इसके बाद रात में ही डीसीपी नोएडा से मोबाइल पर बात की और पूरा वाक्या बताया। नोएडा पुलिस द्वारा एयरपोर्ट पर तैनात पुलिसकर्मियों को बताया गया कि एल्विश इस समय जमानत पर बाहर है और फिलहाल वह वॉन्टेड नहीं है। इसके बाद संबंधित विभाग द्वारा एल्विश यादव को विदेश जाने की अनुमति दी गई। बता दें कि, एल्विश यादव के खिलाफ पिछले साल नोएडा के सेक्टर-49 थाने में केस दर्ज हुआ था।

पिछले साल नवंबर में दर्ज हुआ था केस

गौरतलब है कि ‘पीपुल्स फॉर एनिमल्स’ (पीएफए) के एक सदस्य की शिकायत पर पिछले साल 3 नवंबर 2023 को एल्विश यादव और 5 सपेरों समेत कुल 6 लोगों के खिलाफ नोएडा के सेक्टर 49 थाने में नामजद मुकदमा दर्ज किया गया था। उस समय पांच सपेरों की मौके से ही गिरफ्तारी हो गई थी, जबकि एल्विश को कई माह बाद गिरफ्तार किया गया था। सपेरों के पास से पुलिस ने कोबरा समेत नौ सांप और बीस एमएल जहर भी बरामद किया था।

एल्विश यादव की 17 मार्च को हुई थी गिरफ्तारी

नोएडा पुलिस ने कथित तौर पर एल्विश यादव द्वारा आयोजित पार्टियों में सांपों के जहर के इस्तेमाल की जांच के सिलसिले में 17 मार्च को एल्विश को गिरफ्तार किया था। नोएडा पुलिस ने एल्विश के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट, वन्यजीव संरक्षण एक्ट और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। इस मामले में एल्विश कई दिन तक जेल में रहे थे। उनके साथी विनय और ईश्वर की भी गिरफ्तारी पुलिस ने इसी मामले में की थी। अब सभी आरोपी जमानत पर बाहर हैं। पुलिस की ओर से इस मामले में करीब 1200 पन्नों का आराेपपत्र भी कोर्ट में दाखिल कर दिया गया है।