ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRElvish Yadav : एक माह पहले ही थी रेव पार्टी के खुलासे की तैयारी, PFA ने इस तरह एल्विश यादव को घेरा

Elvish Yadav : एक माह पहले ही थी रेव पार्टी के खुलासे की तैयारी, PFA ने इस तरह एल्विश यादव को घेरा

बिग बॉस ओटीटी सीजन-2 के विजेता और यूट्यूबर एल्विश यादव के खिलाफ पुलिस ने गैर कानूनी तरीके से रेव पार्टी आयोजित करने और उसमें सांप के जहर के कथित इस्तेमाल को लेकर मामला दर्ज किया है।

Elvish Yadav : एक माह पहले ही थी रेव पार्टी के खुलासे की तैयारी, PFA ने इस तरह एल्विश यादव को घेरा
Praveen Sharmaनोएडा। रवि प्रकाश सिंह रैकवारSun, 05 Nov 2023 07:50 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा में सांपों के जहर वाली रेव पार्टी की पोल करीब एक महीने पहले ही खुलने वाली थी। पीपुल फॉर एनिमल्स (पीएफए) के सदस्यों ने इसको लेकर एल्विश यादव (Elvish Yadav) से संपर्क किया थी, पर उस समय बात नहीं हो पाई थी। इस दौरान एनजीओ के सदस्यों ने कई ऐसे सबूत जुटाए, जिसके आधार पर बिग बॉस ओटीटी सीजन-2 के विजेता और यूट्यूबर एल्विश यादव को घेरा जा सके। नोएडा पुलिस ने शुक्रवार को रेव पार्टियों में सांप के जहर के कथित इस्तेमाल को लेकर एल्विश यादव के खिलाफ मामला दर्ज किया था और पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। यूट्यूबर ने आरोपों का खंडन किया है और जांच में पुलिस के साथ सहयोग करने की इच्छा व्यक्त की है। 

यह बातें पीएफए के ही एक सदस्य ने बातचीत के दौरान कही। पीएफए की टीम लगातार मामले की जांच करती रही और फिर स्टिंग के बाद नोएडा में रेव पार्टी आयोजित करने और इसमें सांपों का जहर उपलब्ध करवाने का खुलासा हुआ। मामले में पांच लोग शुक्रवार को ही गिरफ्तार कर लिए गए थे। वैसे, रेव पार्टी का नोएडा कनेक्शन कोई नया नहीं है।

वर्ष 2018 में भी यहां तत्कालीन एसएसपी वैभव कृष्णा के नेतृत्व में पुलिस ने रेव पार्टी का खुलासा किया था, जिसमें 31 युवतियों समेत 192 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। यह पार्टी सेक्टर-135 स्थित एक फार्म हाउस में आयोजित हुई थी। इनमें फार्म हाउस के मालिक समेत पांच मुख्य आयोजक शामिल थे। यहां शराब और अन्य नशीला पदार्थ परोसे जा रहे थे। पार्टी में अश्लील डांस भी हो रहा था। इसके लिए प्रति व्यक्ति 10 हजार रुपये की फीस रखी गई थी। वहीं, युवतियों की फ्री एंट्री थी। इसके बाद भी शहर में रेव पार्टी की चर्चा समय-समय पर होती रहती है।

वन विभाग की शिकायत में एल्विश का नाम नहीं

थाने में दर्ज हुई एफआईआर के अलावा वन विभाग की ओर से भी विभागीय शिकायत की गई है। डीएफओ पीके श्रीवास्तव ने बताया कि वन विभाग की शिकायत में यूट्यूबर एल्विश यादव का नाम शामिल नहीं है। इसमें एल्विश का नाम आएगा या नहीं, यह आने वाला समय बताएगा। डीएफओ ने आगे कहा कि पूरे मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। जो भी दोषी होगा उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

गौरतलब है कि, बिग बॉस ओटीटी सीजन-2 के विजेता और यूट्यूबर एल्विश यादव के खिलाफ पुलिस ने गैर कानूनी तरीके से रेव पार्टी आयोजित करने और उसमें सांप के जहर के कथित इस्तेमाल को लेकर मामला दर्ज किया है। इस मामले में पांच अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन एल्विश फरार है। अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार लोगों के कब्जे से कोबरा समेत नौ सांपों को बचाया गया। ये लोग सेक्टर-51 के एक बैंक्वेट हॉल में रेव पार्टी के लिए एकत्र हुए थे। यह पार्टी पशु अधिकार संगठन पीपुल फॉर एनिमल्स (पीएफए) द्वारा बिछाया गया जाल था। उन्होंने बताया कि पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से प्लास्टिक की बोतल में रखे सांप के 20 मिलीलीटर जहर को जब्त किया तथा इसे टेस्ट के लिए भेज दिया, ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या यह शरीर में मादक पदार्थ की तरह असर करने के लिए तैयार किए गए मादक पदार्थ के समान था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें