ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली बीजेपी अध्यक्ष को चुनाव आयोग का नोटिस, 23 नवंबर तक मांगा जवाब; इसे लेकर AAP ने की थी शिकायत

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष को चुनाव आयोग का नोटिस, 23 नवंबर तक मांगा जवाब; इसे लेकर AAP ने की थी शिकायत

भारत निर्वाचन आयोग ने आम आदमी पार्टी की शिकायत पर दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। आयोग ने भाजपा की दिल्ली इकाई को 23 नवंबर तक जवाब देने को कहा है।

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष को चुनाव आयोग का नोटिस, 23 नवंबर तक मांगा जवाब; इसे लेकर AAP ने की थी शिकायत
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 22 Nov 2023 06:50 AM
ऐप पर पढ़ें

निर्वाचन आयोग ने आम आदमी पार्टी (आप) के नेता एवं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को निशाना बनाने वाले पोस्ट को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा को मंगलवार को नोटिस जारी किया। भाजपा की दिल्ली इकाई के आधिकारिक पेज पर किए गए दो पोस्ट के संबंध में 'आप' ने हाल में आयोग से शिकायत कर आरोप लगाया गया था कि पोस्ट में छेड़छाड़ की गई तस्वीरें और वीडियो थे तथा यह केजरीवाल की छवि को 'धूमिल' करने के 'दुर्भावनापूर्ण' इरादे से किए गए थे।

आयोग ने भाजपा की दिल्ली इकाई को 23 नवंबर तक कारण बताओ नोटिस का जवाब देने को कहा है। यह नोटिस दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष को जारी किया गया है। नोटिस में आयोग ने कहा है कि सचदेवा 23 नवंबर को रात 8 बजे तक बताएं कि आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के लिए उनके खिलाफ 'उचित कार्रवाई' क्यों नहीं की जानी चाहिए। चुनाव आयोग ने कहा कि प्रथम दृष्टया उसका मानना है कि जिस ट्वीट और पोस्ट के बारे में आप ने शिकायत की थी, वह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है।

नोटिस में आयोग ने कहा कि दलों और उम्मीदवारों को प्रतिद्वंद्वियों के निजी जीवन की आलोचना से बचना चाहिए जो सार्वजनिक गतिविधियों से जुड़ी न हों। इसमें यह भी कहा गया कि असत्यापित आरोपों पर आधारित आलोचना से बचा जाए। आयोग ने कहा कि एक राष्ट्रीय पार्टी होने के नाते, भाजपा से यह अपेक्षा की जाती है कि वह सार्वजनिक क्षेत्र में ऐसी सामग्री को प्रकाशित और प्रसारित करने से पहले तथ्यों को सत्यापित करने में सावधानी बरते। बता दें कि छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, मिजोरम, राजस्थान और तेलंगाना राज्यों में विधानसभा चुनावों के कारण नौ अक्टूबर से आदर्श आचार संहिता लागू है।

नोटिस में, चुनाव आयोग ने उल्लेख किया कि वह चुनाव अभियान के उच्च मानकों को बनाए रखने के लिए राजनीतिक दलों को सलाह जारी कर रहा है। आयोग ने अपने 2 मई के निर्देशों का हवाला देते हुए मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय और राज्य राजनीतिक दल'प्रचार के दौरान सार्वजनिक चर्चा के गिरते स्तर, स्टार प्रचारकों द्वारा अपेक्षित स्तर की गरिमा बनाए रखने' के बारे में बताया। आप ने 16 नवंबर को एक वीडियो पर शिकायत दर्ज की थी, जिसे बीजेपी दिल्ली के आधिकारिक फेसबुक और एक्स अकाउंट से 5 नवंबर को पोस्ट किया गया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें