ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRआठ किलोमीटर की दूरी होगी कम, मेरठ एक्सप्रेसवे पर चढ़ना-उतरना होगा आसान; दिल्ली-नोएडा को राहत 

आठ किलोमीटर की दूरी होगी कम, मेरठ एक्सप्रेसवे पर चढ़ना-उतरना होगा आसान; दिल्ली-नोएडा को राहत 

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर उतना और चढ़ना अब आसान हो जाएगा। क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी के पास प्रवेश और निकास स्थान बनाने का काम शुरू हो गया है। केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने इसका शिलान्यास किया।

आठ किलोमीटर की दूरी होगी कम, मेरठ एक्सप्रेसवे पर चढ़ना-उतरना होगा आसान; दिल्ली-नोएडा को राहत 
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,गाजियाबादSat, 06 Jan 2024 06:45 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी के पास प्रवेश और निकास स्थान बनाने का काम शुरू हो गया है। दिल्ली से आने वाले वाहनों के लिए लालकुआं की तरफ चिपियाना के पास निकास स्थान बनाया जा रहा। इनके बनने से आसपास के लोगों को मेरठ एक्सप्रेसवे पर चढ़ने और उतरने में आसानी होगी। वहीं, लगभग आठ किलोमीटर की दूरी कम हो जाएगी।

शुक्रवार को केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग और नागर विमानन केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह ने नारियल फोड़ कर निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। प्रवेश और निकास स्थान अप्रैल तक बनकर तैयार होंगे। क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी और आसपास के क्षेत्र में रहने वाले लोग दिल्ली से मेरठ आते हुए लाल कुआं पर निकास और मेरठ से दिल्ली जाते हुए क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी के पास निकास और प्रवेश स्थान बनाने की मांग लंबे समय से केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह से कर रहे थे। मौजूदा समय में प्रवेश और निकास स्थान नहीं होने से वाहन चालकों को परेशानी उठानी पड़ रही थी।

दिल्ली की तरफ से एक्सप्रेसवे पर आने वाले चालकों को इससे बाहर निकलने के लिए डासना आना पड़ रहा है। उनकी सुविधा के लिए अब चिपियाना के पास निकास स्थान बनाने का काम शुरू हो गया है। मेरठ की तरफ से आने वाले वाहनों को एक्सप्रेसवे से बाहर निकालने के लिए एबीएस कॉलेज से थोड़ा पहले निकास स्थान मिलेगा। वहीं क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी कट से फ्लाईओवर शुरू होने से पहले एक्सप्रेसवे पर चढ़ने के लिए प्रवेश स्थान बनाया जा रहा है। इससे क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी और अन्य जगह रहने वाले लोगों को दिल्ली जाना आसान हो जाएगा।

जल्द निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा

एनएचएआई के परियोजना अधिकारी अरविन्द कुमार ने बताया प्रवेश और निकास स्थान बनाने का काम शुरू हो गया है। निर्माण कार्य अप्रैल तक पूरा हो जाएगा। इससे लोगों को काफी राहत मिलेगी। निर्माण कार्य पर करीब दस करोड़ रुपये खर्च होंगे।

एनएच-9 पर जाम से राहत मिलेगी

प्रवेश और निकास द्वार बनने से एनएच-9 पर रोजाना लगने वाले जाम से लोगों को राहत मिलेगी। एनएच-9 की लेन पर सुबह और शाम वाहनों का दबाव बढ़ने से जाम रहता है। इस कारण परेशानी उठानी पड़ती है। हालांकि सभी जगह यातायात पुलिस कर्मी तैनात हैं। इसके बावजूद जाम से राहत नहीं मिल रही थी। इससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। लोग समस्या से निजात दिलाने की मांग कर रहे थे। अब निकास और प्रवेश स्थान बनने से जाम से राहत मिल सकेगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें