DA Image
23 नवंबर, 2020|1:59|IST

अगली स्टोरी

PM मोदी की वोकल फॉर लोकल पहल का असर, NDRF ने देशी नस्ल के कुत्तों को दी अपने डॉग स्क्वॉड में जगह

ndrf inducts indigenous dog breeds for rescue operations   ani photo

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'वोकल फॉर लोकल' की पहल से प्रेरित होकर नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स (NDRF) ने अब अपने डॉग स्क्वॉड में देशी नस्ल के कुत्तों को प्रशिक्षित करना शुरू कर दिया है।

NDRF की 8वीं बटालियन के कमांडेंट पी.के. तिवारी ने बताया कि आपदा और राहत कार्यों में बल की सहायता के लिए अब तक देशी नस्ल के तीन कुत्तों को प्रशिक्षित किया गया है।

तिवारी ने कहा कि हमारे भारतीय नस्ले के कुत्ते किसी संदिग्ध वस्तु पहचान और संचालन क्षमता में किसी भी अन्य विदेशी नस्ल के कुत्तों से कम नहीं हैं। उन्हें संभालने के लिए सभी को थोड़े धैर्य की आवश्यकता होती है। भारतीय कुत्तों में अधिक जोश और फुर्ती होती है। पहले हम विदेशी कुत्तों को प्रशिक्षित करते थे। अब हमने भारतीय नस्लों को भी प्रशिक्षित करना शुरू कर दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने 'वोकल फॉर लोकल' (Vocal For Local) की वकालत की है। यह एक वास्तविक पहल है जिसके तहत हमने भारतीय नस्ल के कुत्तों को प्रशिक्षित करना शुरू किया। शुरू में, हमें बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, उन कुत्तों में से कुछ भाग भी गए, लेकिन हमने कुछ को प्रशिक्षित किया है। उनमें से अब तक तीन कुत्तों को हमने अपने दस्ते में शामिल किया है।

इससे पहले अगस्त में, प्रधानमंत्री मोदी ने कुत्ता पालने की योजना बना रहे लोगों से भारतीय नस्ल के कुत्तों को घर लाने का आग्रह किया था। उन्होंने अपने 'मन की बात' कार्यक्रम के दौरान कहा था कि मुझे बताया गया है कि भारतीय नस्ल के कुत्ते बहुत अच्छे और सक्षम हैं। उनके पालन-पोषण की लागत भी काफी कम है और वे भारतीय परिस्थितियों के भी आदी हैं। जब आत्मनिर्भर भारत जनता का मंत्र बन रहा है, तो किसी को भी पीछे नहीं रहना चाहिए। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Effect of PM Modi s Vocal for Local initiative NDRF gives place to indigenous dog breeds in its dog squad for rescue operations