ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRयूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलें बढ़ीं, ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया; क्या है मामला

यूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलें बढ़ीं, ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया; क्या है मामला

यूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलें बढ़तीं नजर आ रही हैं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि ईडी ने यूट्यूबर सिद्धार्थ यादव उर्फ ​​एल्विश यादव को समन भेजकर 23 जुलाई को पूछताछ के लिए बुलाया है।

यूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलें बढ़ीं, ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया; क्या है मामला
Subodh Mishraपीटीआई,नई दिल्लीWed, 10 Jul 2024 11:22 AM
ऐप पर पढ़ें

यूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलें बढ़तीं नजर आ रही हैं। आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि ईडी ने यूट्यूबर सिद्धार्थ यादव उर्फ ​​एल्विश यादव को समन भेजकर 23 जुलाई को पूछताछ के लिए बुलाया है। एल्विश पर अपनी पार्टियों में मनोरंजक दवा के रूप में सांप के जहर के संदिग्ध इस्तेमाल से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज है। 

केंद्रीय एजेंसी ने नोएडा में पुलिस द्वारा एल्विश यादव और संबंधित व्यक्तियों के खिलाफ दायर एक एफआईआर और आरोप पत्र का संज्ञान लेने के बाद धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत आरोप लगाए थे।

सूत्रों ने कहा कि एल्विश यादव को पहले इस सप्ताह ईडी के लखनऊ कार्यालय में आने के लिए कहा गया था। एल्विश ने अपनी निर्धारित विदेश यात्रा और पेशेवर प्रतिबद्धताओं के कारण समन को स्थगित करने की मांग की।

सूत्रों ने बताया कि अब उन्हें 23 जुलाई को ईडी के जांच अधिकारी के सामने पेश होने के लिए कहा गया है। ईडी ने इस सप्ताह एल्विश यादव से कथित तौर पर जुड़े हरियाणा के गायक राहुल यादव उर्फ ​​राहुल फाजिलपुरिया से उक्त मामले में पूछताछ की थी। उन्हें दोबारा बुलाया जा सकता है।

एल्विश यादव को 17 मार्च को नोएडा पुलिस ने कथित तौर पर उनके द्वारा आयोजित पार्टियों में मनोरंजक दवा के रूप में सांप के जहर के इस्तेमाल की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। 26 साल के एल्विश रियलिटी शो बिग बॉस ओटीटी 2 का विजेता भी है। उस पर नोएडा पुलिस ने एनडीपीएस अधिनियम, वन्यजीव संरक्षण अधिनियम और आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। 

एक गैर सरकारी संगठन पीपुल्स फॉर एनिमल्स (पीएफए) के एक प्रतिनिधि की शिकायत पर छह लोगों के खिलाफ पिछले साल 3 नवंबर को नोएडा के सेक्टर 49 थाने में एफआईआर दर्ज किया गया था। इन्हें पिछले साल 3 नवंबर को नोएडा के एक बैंक्वेट हॉल से गिरफ्तार किया गया था और उनके कब्जे से पांच कोबरा सहित नौ सांपों को बचाया गया था। इनके कब्जे से 20 मिलीलीटर सांप का जहर भी जब्त किया गया था।

हालांकि, पुलिस ने कहा था कि एल्विश यादव बैंक्वेट हॉल में मौजूद नहीं थे और वे मामले में उनकी भूमिका की जांच कर रहे हैं। इस मामले में नोएडा पुलिस ने अप्रैल में 1200 पन्नों से अधिक की चार्जशीट दायर की थी। पुलिस ने कहा था कि आरोपों में सांपों की तस्करी, नशीले पदार्थों का इस्तेमाल और रेव पार्टियों का आयोजन शामिल है।