ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRED ने केजरीवाल के एक और मंत्री कैलाश गहलोत को भेजा समन, आज ही पूछताछ को बुलाया

ED ने केजरीवाल के एक और मंत्री कैलाश गहलोत को भेजा समन, आज ही पूछताछ को बुलाया

दिल्ली शराब घोटाले की जांच की आंच तेजी से बढ़ती जा रही है। ईडी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के सुप्रीमो की गिरफ्तारी के बाद अब कैलाश गहलोत को भी समन भेज दिया है।

ED ने केजरीवाल के एक और मंत्री कैलाश गहलोत को भेजा समन, आज ही पूछताछ को बुलाया
Praveen Sharmaनई दिल्ली। पीटीआईSat, 30 Mar 2024 10:53 AM
ऐप पर पढ़ें

ED summons to Kailash Gahlot : दिल्ली शराब घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का ऐक्शन लगातार जारी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के सुप्रीमो की गिरफ्तारी के बाद अब ईडी ने एक और मंत्री कैलाश गहलोत को भी समन भेज दिया है।बताया जा रहा है ईडी ने कैलाश गहलोत को आज ही पूछताछ के लिए बुलाया है।

नजफगढ़ से आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक गहलोत मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार में परिवहन, गृह और कानून मंत्री है। सूत्रों ने कहा कि गहलोत को शराब नीति मामले में पूछताछ के लिए पेश होने और पीएमएलए के तहत अपना बयान दर्ज कराने के लिए कहा गया है।

यह मामला 2021-22 के लिए दिल्ली सरकार की शराब नीति को तैयार करने और क्रियान्वित करने में कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग से संबंधित है, जिसे बाद में रद्द कर दिया गया था। इस मामले में 'आप' नेता मनीष सिसौदिया और संजय सिंह को ईडी ने पहले गिरफ्तार किया था और वे न्यायिक हिरासत में हैं।

21 मार्च को हुई थी केजरीवाल की गिरफ्तारी

गौरतलब है कि ईडी ने शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में पूछताछ के लिए भेजे गए 9 समन को दरकिनार कर चुके दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 21 मार्च की रात को गिरफ्तार कर लिया था। केजरीवाल को शराब घोटाले का मुख्य सूत्रधार बता रही ईडी ने गिरफ्तारी से पहले कई घंटे तक उनके घर में सर्च ऑपरेशन भी चलाया था। दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा केजरीवाल को ईडी की किसी दंडात्मक कार्रवाई से राहत देने से इनकार करने के कुछ ही घंटों बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था। पद पर रहने के दौरान किसी मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी का यह पहला मामला है। वह 1 अप्रैल तक ईडी की कस्टडी में हैं।

बता दें कि, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने खुद अदालत में अपनी दलीलें रखते हुए आरोप लगाया कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का उद्देश्य आम आदमी पार्टी (आप) को खत्म करना है। केजरीवाल ने यह भी आरोप लगाया कि देश के सामने आम आदमी पार्टी के भ्रष्ट होने की झूठी तस्वीर पेश की जा रही है।