ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCR'विस्फोटक खुलासे' का दावा कर AAP ने ED पर क्या लगाए आरोप, कहा- कोर्ट में भी डाली याचिका

'विस्फोटक खुलासे' का दावा कर AAP ने ED पर क्या लगाए आरोप, कहा- कोर्ट में भी डाली याचिका

दिल्ली में आज 'आप' के बड़े नेताओं के ठिकानों पर हो रही ईडी की छापेमारी के बीच दिल्ली की शिक्षा मंत्री और 'आप' की नेता आतिशी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ईडी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

'विस्फोटक खुलासे' का दावा कर AAP ने ED पर क्या लगाए आरोप, कहा- कोर्ट में भी डाली याचिका
Praveen Sharmaनई दिल्ली। लाइव हिन्दुस्तानTue, 06 Feb 2024 10:30 AM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। दिल्ली में आज 'आप' के बड़े नेताओं के ठिकानों पर जारी ईडी की छापेमारी के बीच दिल्ली की शिक्षा मंत्री और 'आप' की नेता आतिशी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ईडी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। आतिशी ने कहा कि भाजपा की अगवाई वाली केंद्र सरकार उसके नेताओं पर ईडी की छापेमारी के जरिये पार्टी को डराने और चुप कराने की कोशिश कर रही है।

आतिशी ने मंगलवार को दावा किया कि हमें पता चला है कि शराब नीति की जांच से जुड़े ऑडियो रिकॉर्डिंग्स डिलीट कर दी गई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि ईडी अधिकारियों ने पिछले डेढ़ साल में पहले तो लोगों से गलत बयान लिए और अब उनकी ऑडियो रिकॉर्डिंग्स ही डिलीट कर दीं।  

आतिशी ने 'आप' नेता ईडी की छापेमारी पर कहा, ''आप नेताओं और 'आप' से जुड़े लोगों के खिलाफ ईडी की छापेमारी चल रही है। 'आप' के कोषाध्यक्ष और सांसद एनडी गुप्ता, अरविंद केजरीवाल के पीए और अन्य के आवास पर छापेमारी चल रही है। बीजेपी चाहती है केंद्रीय एजेंसियों के माध्यम से हमारी पार्टी को दबाएं, लेकिन मैं उन्हें बताना चाहती हूं कि हम डरने वाले नहीं हैं।"

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि प्रवर्तन निदेशालय ने आबकारी नीति मामले से जुड़े गवाहों और आरोपियों के बयान जबरन तथा धमकी देकर दिलवाए हैं। आतिशी ने कहा कि दो साल की जांच के बावजूद एजेंसियों को कथित शराब नीति घोटाले में कुछ नहीं मिला है।

दिल्ली की मंत्री आतिशी ने कहा, ''पिछले 2 साल से AAP नेताओं को धमकियां दी जा रही हैं। इस तथाकथित शराब घोटाले के नाम पर किसी के घर छापेमारी होती है, किसी को समन मिलता है और किसी को गिरफ्तार किया जाता है... दो साल में सैकड़ों छापेमारी के बाद भी ईडी एक रुपया भी बरामद नहीं कर पाई है। दो साल बाद भी ईडी को कोई ठोस सबूत नहीं मिला है और कोर्ट ने भी बार-बार कहा है कि सबूत पेश किए जाएं..."

बता दें कि, ईडी आज मनी लॉन्ड्रिंग जांच के तहत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव और आम आदमी पार्टी (आप) सांसद एनडी गुप्ता और अन्य लोगों के आवास सहित लगभग 12 स्थानों पर छापेमारी कर रही है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें