DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनावी फंडिंग में विसंगति के लिए 'आप' के खिलाफ हो सकती है कार्रवाई

AAP

आम आदमी पार्टी (आप) के चुनावी फंडिंग ब्यौरे में विसंगतियों पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग ने मंगलवार को 'आप' को उसके पारदर्शिता दिशानिर्देशों का पालन करने में प्रथमदृष्या नाकाम रहने पर कार्रवाई के लिए चेताया।

आयोग ने अपने कारण बताओ नोटिस में दावा किया कि 'आप' द्वारा हवाला ऑपरेटरों के जरिये लेन-देन को गलत तरीके से स्वैच्छिक दान के रूप में दिखाया गया।

आयोग ने 'आप' से नोटिस का जवाब 20 दिन में देने को कहा है। इसके साथ ही आयोग ने कहा कि ऐसा नहीं करने पर उसके तथा केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के पास उपलब्ध जानकारी पर गुणदोष के आधार पर फैसला किया जाएगा।

दिल्लीवालों को घर बैठे ही 40 सेवाएं मिलनी शुरू, योजना पहले दिन से ही हिट

चुनाव चिन्ह (आरक्षण एवं आवंटन) आदेश का नियम 16ए चुनाव आयोग को किसी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल की मान्यता निलंबित करने या वापस लेने की अनुमति देता है। आप दिल्ली में मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल है।

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, नोटिस में कहा गया कि 'आप' ने 30 सितंबर 2015 को वित्त वर्ष 2014-15 के लिए मूल दान रिपोर्ट सौंपी थी। बाद में पार्टी ने 20 मार्च 2017 को संशोधित रिपोर्ट दी।

आयोग ने कहा कि वर्ष 2015 में सीबीडीटी प्रमुख के कार्यालय से वित्त वर्ष 2014-15 के दौरान 'आप' द्वारा प्राप्त दान छिपाने के संबंध में एक रिपोर्ट मिली थी।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:EC threatens action against AAP for discrepancies in electoral funding reports