ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRतीन स्थानों पर बनेंगे ई-चार्जिंग स्टेशन, दिल्ली वन ऐप पर भी ले सकेंगे जानकारी

तीन स्थानों पर बनेंगे ई-चार्जिंग स्टेशन, दिल्ली वन ऐप पर भी ले सकेंगे जानकारी

सत्येंद्र जैन ने कहा, इन स्टेशनों के बनने के बाद ये स्थान अपनी रियल टाइम स्थिति और चार्जिंग प्वॉइंट की उपलब्धता के साथ दिल्ली सरकार के वन दिल्ली ऐप पर भी उपलब्ध होंगे।

तीन स्थानों पर बनेंगे ई-चार्जिंग स्टेशन, दिल्ली वन ऐप पर भी ले सकेंगे जानकारी
Swati Kumariवरिष्ठ संवाददाता,नई दिल्लीThu, 26 May 2022 06:19 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वालों की सहूलियत के लिए दिल्ली में तीन स्थानों पर चार्जिंग और बैटरी स्वैपिंग स्टेशन बनाए जाएंगे। दिल्ली स्टेट इंडस्ट्रियल एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (डीएसआईआईडीसी) बोर्ड की बुधवार को हुई बैठक में इस पर फैसला किया गया।

ये चार्जिंग और बैटरी बदलने वाले स्टेशन पटपड़गंज, बवाना आद्यौगिक क्षेत्र सेक्टर-5 और नरेला सेक्टर-बी में बनाएं जाएंगे। यह जिम्मेदारी दिल्ली ट्रांस्को लिमिटेड को दी गई है। इस मौके पर उद्योग मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन ही हमारा भविष्य हैं, क्योंकि इससे हम प्रदूषण मुक्त दिल्ली बना सकते हैं।

सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली को इलेक्ट्रिक गाड़ियों की राजधानी बनाने के इन वाहनों को बढ़ावा दिया जा रहा है। दिल्ली में बड़ी संख्या में लोग इलेक्ट्रिक बाइक और कार खरीद रहे हैं। हालांकि, कई बार लोगों को इन गाड़ियों की चार्जिंग को लेकर संशय बना रहता है। ई-वाहनों से दूर का सफर नहीं किया जा सकता है। यही उनके सामने सबसे बड़ी समस्या रहती है कि वे गाड़ी चार्ज कहां और कैसे करेंगे। ऐसे में लोगों की समस्या को दूर करने के लिए दिल्ली सरकार चार्जिंग और बैटरी स्वैपिंग स्टेशन स्थापित करने पर जोर दे रही है।

मंगोलपुरी औद्योगिक क्षेत्र में सड़कें बेहतर होंगी
डीएसआईआईडीसी की बोर्ड बैठक में मंगोलपुरी औद्योगिक क्षेत्र में ड्रेन और सड़कों के रखरखाव को लेकर भी फैसला किया गया है। जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने और व्यापार को आसान बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार का मकसद कोरोना के चलते प्रभावित उद्योगों को पटरी पर लाने के साथ-साथ युवाओं के लिए नए रोजगार के अवसर पैदा करना है।

दिल्ली सरकार की ओर से मंगोलपुरी औद्योगिक क्षेत्र फेज-1 को हरा-भरा, स्वच्छ और बेहतर बनाने की दिशा में काम किया जाएगा। साथ ही सीवेज, सामान्य अपशिष्ट उपचार संयंत्र के अलावा औद्योगिक अपशिष्ट के निपटारे की व्यवस्था की जाएगी।

दिल्ली वन ऐप पर भी ले सकेंगे जानकारी
सत्येंद्र जैन ने कहा, इन स्टेशनों के बनने के बाद ये स्थान अपनी रियल टाइम स्थिति और चार्जिंग प्वॉइंट की उपलब्धता के साथ दिल्ली सरकार के वन दिल्ली ऐप पर भी उपलब्ध होंगे। जिस तरह आज हर जगह पेट्रोल पंप दिखते हैं, उसी तरह आने वाले समय में हर जगह ई-वाहन चार्जिंग सेंटर और बैटरी स्वैपिंग स्टेशन भी दिखेंगे।

epaper