DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाजियाबाद : ऑटो गैंग ने डीयू की छात्रा को बंधक बनाकर लूटा, मारपीट कर सुनसान जगह पर फेंका

1 / 2ऑटो सवार बदमाशोंने छात्रा का मुंह दबा लिया और सुनसान इलाके मेंलूटपाट कर विजयनगर इलाके में फेंक गए।

2 / 2दिल्ली से लौटी छात्रा ने नोएडा के इलेक्ट्रॉनिक सिटी मेट्रो स्टेशन के बाहर से इंदिरापुरम जाने के लिए ऑटो लिया।

PreviousNext

कॉलेज फेस्ट से लौट रही दिल्ली विश्वविद्यालय के एक कॉलेज की छात्रा से ऑटो गैंग ने बंधक बनाने के बाद मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। लूटपाट करने के बाद आरोपी उसे सुनसान जगह पर छोड़कर फरार हो गए। पीड़िता ने थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। बता दें कि नौ मार्च को भी एक महिला डेंटिस्ट को बंधक बनाकर बदमाशों ने लूटपाट की थी। 

इंदिरापुरम की एक सोसाइटी में रहने वाली छात्रा दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक कॉलेज में पढ़ती है। छात्रा के पिता दिल्ली की एक कंपनी में एडवाइजर हैं। छात्रा के पिता के मुताबिक 12 मार्च की रात को कॉलेज में फेस्ट था। फेस्ट देर से खत्म होने के कारण उसे घर वापस लौटने में देर हो गई। दिल्ली से वह मेट्रो के माध्यम से नोएडा के इलेक्ट्रॉनिक सिटी मेट्रो स्टेशन पर पहुंची और यहां इसके बाद एनएच-24 पर पहुंची। यहां से मोहननगर की तरफ जाने वाले ऑटो में सवार हुई। छात्रा ने बताया कि जिस ऑटो में वह सवार हुई थी। उसमें दो युवक पहले से ही बैठे थे। ऑटो कुछ दूर ही चला था कि दो अन्य लोग भी और उसमें सवार हो गए। ऑटो के कुछ दूर चलने के बाद उसमें बैठे युवकों ने छात्रा से लूटपाट शुरू कर दी।

विरोध करने पर उन्होंने उसके साथ मारपीट की, जिससे उसे गंभीर चोंटे आईं। इसके बाद बदमाशों ने छात्रा के हाथ और पैर व आंखों में पट्टी बांध ऑटो में सीट के पीछे डाल दिया। इसके बाद जब उन्होंने उसकी तलाशी ली तो छात्रा के पास से कुछ भी नहीं मिलने पर उसके साथ मारपीट कर मेरठ रोड पर फेंक गए। 

बदमाशों के जाने के बाद पीड़िता ने खुद को बंधन मुक्त किया और इसके बाद अपने पिता को फोन कर घटना के बारे में जानकारी दी। छात्रा ने व्हॉट्सएप पर लोकेशन भेजकर अपने पिता को घटनास्थल पर बुलाया। इसके बाद छात्रा के परिजन मौके पर पहुंचे और अपनी बेटी को फोन किया। बेटी मिलने के उन्होंने 100 नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर आई 100 नंबर की बाइक ने उन्हें विजयनगर थाने में जाकर शिकायत करने के लिए कहा। जब वह थाने पहुंचे तो नोएडा में ही शिकायत करने को कहा, लेकिन बाद में एसएसपी के आदेश पर विजयनगर में ही मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई।

पुलिस के लिए गंभीर चुनौती बना ऑटो गैंग

ऑटो गैंग पुलिस के लिए चुनौती बन गया है। विजयनगर थाने में लगातार दो महिलाओं को बंधक बनाकर लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है, मगर इसके बावजूद भी विजयनगर पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर पा रही है। इसके अलावा भी कई वारदात हो चुकी हैं।

''रिपोर्ट दर्ज कर बदमाशों की तलाश की जा रही है। छात्रा के बयान के अनुसार इस बार भी ऑटो में ड्राइवर समेत चार बदमाश थे और ऑटो में नंबर भी था। इससे लग रहा है कि दोनों ही घटनाओं में एक ही गैंग है। टीमों को इस गैंग को पकड़ने के लिए लगाया गया है।'' -उपेंद्र कुमार अग्रवाल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, गाजियाबाद

डेंटिस्ट से लूट का अबतक खुलासा नहीं 

गाजियाबाद। छह दिन बीत जाने के बाद भी महिला डेंटिस्ट से लूटपॉट करने वाले ऑटो गैंग के सदस्यों को पुलिस पकड़ नहीं पाई है। महिला डेटिस्ट को बंधक बनाने के बाद उसके एटीएम से 20 हजार रुपये निकाले गए थे। पीड़िता ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया था। घटना के खुलासे के लिए दो टीमें लगाई गई थीं, मगर सफलता नहीं मिली।

विजयनगर के क्रॉसिंग रिपब्लिक की एक सोसाइटी में रहने वाली महिला डेंटिस्ट के साथ नौ मार्च की रात को ऑटो गैंग के सदस्यों ने लूटपॉट की थी। इस गैंग ने महिला को बंधक बनाकर उनके मोबाइल के सिम निकालकर फेंक दिए थे और इसके बाद एटीएम का पासवर्ड पूछकर 20 हजार रुपये एक एटीएम से निकाले थे। इसके बाद महिला किसी तरह से एनएच-24 पर पहुंची थी और अपने जीजा के साथ विजयनगर थाने पहुंचकर मुकदमा दर्ज कराया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DU student robbed at NH-24 in Ghaziabad autorickshaw