ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRWho is Devender Yadav : देवेंद्र यादव बने दिल्ली कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष, अरविंदर सिंह लवली की लेंगे जगह

Who is Devender Yadav : देवेंद्र यादव बने दिल्ली कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष, अरविंदर सिंह लवली की लेंगे जगह

दिल्ली के पूर्व विधायक देवेंद्र यादव को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। लवली के इस्तीफे के बाद देवेंद्र यादव का नाम इस पद के संभावित दावेदार सबसे आगे चल रहा था।

Who is Devender Yadav : देवेंद्र यादव बने दिल्ली कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष, अरविंदर सिंह लवली की लेंगे जगह
Praveen Sharmaनई दिल्ली। लाइव हिन्दुस्तानTue, 30 Apr 2024 02:12 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के पूर्व विधायक देवेंद्र यादव (Devender Yadav) को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी (डीपीसी) का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। अरविंदर सिंह लवली के इस्तीफे के बाद देवेंद्र यादव का नाम दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद के संभावित दावेदार सबसे आगे चल रहा था।

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महासचिव और सांसद के.सी. वेणुगोपाल द्वारा जारी आधिकारिक आदेश के मुताबिक, देवेंद्र यादव को तत्काल प्रभाव से दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। इसके साथ ही वह पंजाब के इंचार्ज की जिम्मेदारी भी संभालते रहेंगे।

कौन हैं देवेंद्र यादव

कांग्रेस नेता देवेंद्र यादव दो बार दिल्ली की बादली विधानसभा सीट से विधायक रह चुके हैं। उन्होंने 2008 और 2013 के विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी। वो कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी के भी सदस्य हैं। बता दें कि, देवेंद्र यादव कांग्रेस पार्टी के सीनियर नेता हैं और और पूरी दृढ़ता से कांग्रेस पार्टी को मजबूती प्रदान करने में जुटे हैं। उन्हें कांग्रेस आलाकमान का भरोसेमंद माना जाता है।

लवली ने शनिवार को दिया था इस्तीफा

अरविंदर सिंह लवली ने शनिवार को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया था। उन्होंने कहा था कि दिल्ली कांग्रेस हमेशा से लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) के साथ गठबंधन के खिलाफ थी, लेकिन पार्टी आलाकमान इस पर आगे बढ़ गया। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को भेजे और अपने इस्तीफे और  4 पन्नों के पत्र में, लवली ने यह भी कहा कि वह खुद को असहाय पाते हैं क्योंकि दिल्ली कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा लिए गए सभी सर्वसम्मत निर्णयों को एआईसीसी दिल्ली प्रभारी दीपक बाबरिया द्वारा एकतरफा वीटो कर दिया गया। लवली को पिछले साल अगस्त में ही दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया था। 

गौरतलब है कि शीला दीक्षित सरकार में मंत्री रहे अरविंदर सिंह लवली ने सात साल पहले 18 अप्रैल 2017 को कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था। हालांकि, महज 10 महीने में ही उनका भाजपा से मोह भंग हो गया था और वह 17 फरवरी 2018 को फिर से कांग्रेस पार्टी में लौट आए थे।