ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRठिठुरन बढ़ी: बारिश-बादलों के चलते दिल्ली में 7 डिग्री तक गिरा अधिकतम तापमान, सर्दी का सितम हफ्तेभर रहने के आसार

ठिठुरन बढ़ी: बारिश-बादलों के चलते दिल्ली में 7 डिग्री तक गिरा अधिकतम तापमान, सर्दी का सितम हफ्तेभर रहने के आसार

राजधानी दिल्ली को अभी सप्ताह भर तक गलन भरी सर्दी में ठिठुरना पड़ेगा। मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले शुक्रवार तक अधिकतम तापमान 18 डिग्री से कम या आसपास बना रहेगा। इस बीच, हल्की बारिश और घने बादलों के...

ठिठुरन बढ़ी: बारिश-बादलों के चलते दिल्ली में 7 डिग्री तक गिरा अधिकतम तापमान, सर्दी का सितम हफ्तेभर रहने के आसार
Swati Kumariप्रमुख संवाददाता,नई दिल्ली Sun, 23 Jan 2022 10:27 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली को अभी सप्ताह भर तक गलन भरी सर्दी में ठिठुरना पड़ेगा। मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले शुक्रवार तक अधिकतम तापमान 18 डिग्री से कम या आसपास बना रहेगा। इस बीच, हल्की बारिश और घने बादलों के चलते शनिवार को अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री कम रहा जिससे ठिठुरन बढ़ गई। बारिश का सिलसिला देर रात तक जारी रहा।

राजधानी के ज्यादातर हिस्सों में शुक्रवार देर रात से हल्की बारिश शुरू हो गई थी। सफदरजंग मौसम केंद्र में सुबह 8:30 बजे तक 4.9 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई। बाद में भी बूंदाबांदी व बादल छाए रहे। इसके चलते अधिकतम तापमान 14.7 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्य से सात डिग्री कम है। न्यूनतम तापमान 11.5 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से चार डिग्री ज्यादा है।

सीजन का सबसे ठंडा दिन: बारिश और घने बादलों के चलते शनिवार का दिन सीजन का सबसे ठंडा दिन रहा। इससे पहले 15 जनवरी को अधिकतम तापमान 14.8 डिग्री सेल्सियस रहा था।

आज भी बूंदाबांदी
मौसम विभाग का अनुमान है कि रविवार को भी दिल्ली में बूंदाबांदी हो सकती है। जबकि सोमवार सुबह हल्का कोहरा रहेगा। दिन के समय हल्के बादल छाए रह सकते हैं।

बर्फीली हवाओं से बढ़ेगी ठिठुरन
मौसम विभाग का अनुमान है कि रविवार के बाद हवा उत्तर पश्चिमी दिशा यानी उच्च हिमपात वाले इलाके से आएगी। यह हवा अपने साथ बर्फबारी की ठंडक भी लाएगी। इसके चलते सोमवार से न्यूनतम तापमान गिरेगा। शुक्रवार तक न्यूनतम तापमान छह डिग्री तक पहुंचने की संभावना है।

राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक आरके जेनामनी ने कहा, 'बादल और हल्की बारिश के कारण उत्तर पश्चिम भारत में सर्दी बढ़ी है। पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी भी कारक है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण बादल छाने और सूरज न निकलने से भी सर्दी बढ़ी है।'

epaper