DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › दिल्ली: सामान्य से आठ डिग्री ठंडी रही शुक्रवार की सुबह, साफ-सुथरी हुई हवा, जानें अगले चार दिनों के मौसम का हाल
एनसीआर

दिल्ली: सामान्य से आठ डिग्री ठंडी रही शुक्रवार की सुबह, साफ-सुथरी हुई हवा, जानें अगले चार दिनों के मौसम का हाल

प्रमुख संवाददाता,नई दिल्लीPublished By: Sneha Baluni
Sat, 12 Jun 2021 07:49 AM
दिल्ली: सामान्य से आठ डिग्री ठंडी रही शुक्रवार की सुबह, साफ-सुथरी हुई हवा, जानें अगले चार दिनों के मौसम का हाल

मौसम में हो रहे बदलावों का असर राजधानी दिल्ली पर तेजी से दिख रहा है। जहां दो दिन पहले ही सुबह का तापमान 31 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा रिकॉर्ड किया गया था। वहीं, शुक्रवार के दिन राजधानी की सुबह सामान्य से आठ डिग्री ठंडी रही। दिन के समय भी हल्के बादल छाए रहे।

राजधानी वालों के लिए पिछले तीन-चार गर्मी वाले रहे थे। इस दौरान खासतौर पर नौ तारीख को लोगों को खासी गर्मी का सामना करना पड़ा। इस दिन अधिकतम और न्यूनतम दोनों ही तापमान सामान्य से ज्यादा रहे थे। अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान 31.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। लेकिन, 48 घंटे के भीतर ही मौसम में बदलाव देखने को मिला है। 

गुरुवार की मध्यरात्रि दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बरसात हुई। दिल्ली के सफदरजंग केंद्र में 7.8 मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई। इसके चलते शुक्रवार की सुबह बेहद सुहानी रही। दिल्ली के सफदरजंग में सुबह न्यूनतम तापमान 20.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से आठ डिग्री कम है। जबकि, अधिकतम तापमान 39.0 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि इस मौसम का सामान्य तापमान है।

अगले चार दिन बूंदाबांदी और तेज हवा
मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले चार दिनों के बीच तेज हवा, बादल और बूंदाबांदी का दौर बना रहेगा। इसके चलते अधिकतम और न्यूनतम तापमान में खासी गिरावट आएगी। यहां तक कि तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है। 

दिल्ली की हवा साफ-सुथरी
वहीं, मौसम में हुए बदलाव का असर दिल्ली की हवा पर भी देखने को मिल रहा है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक शुक्रवार के दिन दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 145 के अंक पर रहा। इस स्तर की हवा को मध्यम श्रेणी में रखा जाता है। केन्द्र द्वारा संचालित संस्था सफर का अनुमान है कि अगले तीन दिनों के बीच मौसम की अलग-अलग गतिविधियों के चलते वायु गुणवत्ता सूचकांक आमतौर पर मध्यम श्रेणी में रहने के अनुमान है।

संबंधित खबरें