ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में जल संकट और विकट, समाधान तलाशने को हाईलेवल माथापच्ची; आतिशी ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग

दिल्ली में जल संकट और विकट, समाधान तलाशने को हाईलेवल माथापच्ची; आतिशी ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग

दिल्ली की जल संसाधन मंत्री आतिशी ने आज जल संकट से निपटने को उठाए गए कदमों की समीक्षा के लिए एक हाईलेवल आपातकालीन बैठक बुलाई है। आतिशी ने शुक्रवार को कहा था कि दिल्ली जल संकट से जूझ रही है।

दिल्ली में जल संकट और विकट, समाधान तलाशने को हाईलेवल माथापच्ची; आतिशी ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग
delhi water minister atishi called emergency meeting on water crisis
Praveen Sharmaनई दिल्ली। लाइव हिन्दुस्तानSat, 15 Jun 2024 12:20 PM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी में दिन-प्रतिदिन गंभीर होते पेयजल संकट को देखते हुए दिल्ली सरकार फुल ऐक्शन में आ गई है। दिल्ली की जल संसाधन मंत्री आतिशी ने आज जल संकट से निपटने को उठाए गए कदमों की समीक्षा के लिए एक हाईलेवल आपातकालीन बैठक बुलाई है। दिल्ली सचिवालय में चल रही इस बैठक में दिल्ली जल बोर्ड और शहरी विकास विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद हैं। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) हरियाणा पर दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं छोड़ने का आरोप लगा रही है।

दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने शुक्रवार को कहा था कि यमुना नदी में कम पानी छोड़े जाने से दिल्ली में लगातार पानी की कमी हो रही है। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने भाजपा शासित हरियाणा पर दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं देने का आरोप लगाया है।

दिल्ली में जल सकंट पर कांग्रेस का 'मटका फोड़' प्रदर्शन

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस ने राजधानी में जल संकट को लेकर शनिवार को विभिन्न स्थानों पर 'मटका फोड़' प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन राजधानी के 280 ब्लॉक में सुबह 10 बजे शुरू हुआ। सिर पर मटके और हाथ में कांग्रेस के झंडे लेकर प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी की और बाद में उन्होंने मटकों को जमीन पर पटककर फोड़ दिया।

कांग्रेस की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष देवेंद्र यादव भी इस प्रदर्शन में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने राजधानी में गहराए जल सकंट के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की। उन्होंने शुक्रवार को आरोप लगाया था कि दिल्ली सरकार ने शहर में पानी की कमी को दूर करने के लिए उचित कदम नहीं उठाए हैं, जिसके कारण लोगों को पानी के टैंकरों के पीछे भागना पड़ रहा है। 

दिल्ली में पानी का उत्पादन लगातार घट रहा है: आतिशी

आतिशी ने शुक्रवार को कहा था कि दिल्ली जल संकट से जूझ रही है। यमुना का पानी कम पहुंचने से दिल्ली में लगातार पानी का उत्पादन घट रहा है। आतिशी ने 'एक्स' पर एक पोस्ट में कहा, ''यमुना का पानी कम पहुंचने से दिल्ली में लगातार पानी का उत्पादन घट रहा है। सामान्य परिस्थिति में दिल्ली में 1005 एमजीडी (दस लाख गैलन प्रति दिन) पानी का उत्पादन होता है, लेकिन पिछले एक हफ्ते से यह लगातार घट रहा है।''

उन्होंने कहा, ''उत्पादन कम होने से, दिल्ली के कई हिस्सों में पानी की कमी है। सभी से अनुरोध है कि पानी का प्रयोग बहुत किफायती तरीके से करें।''

मंत्री ने कुछ आंकड़े साझा करते हुए कहा कि 6 जून को पानी का उत्पादन 1002 एमजीडी था, जो अगले दिन यानी 7 जून को 993 एमजीडी और 8 जून को 990, नौ जून को 978 एमजीडी, 10 जून को 958 एमजीडी, 11 जून को 919, 12 जून को 951 और 13 जून को 939 एमजीडी रह गया।

आतिशी ने पानी की बर्बादी रोकने के लिए अधिकारियों को दिए निर्देश

बता दें कि, आतिशी ने जल बोर्ड के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि शहर भर में पेट्रोलिंग बढ़ाई जाए और यदि कहीं भी मुख्य पाइपलाइन में कोई रिसाव मिलता है तो उसे तुरंत दूर किया जाए। आतिशी समय-समय पर जल बोर्ड और राजस्व विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ वाटर ट्रीटमेंट प्लांट्स का निरीक्षण कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार शहर भर में एडीएम और एसडीएम की टीमों द्वारा पेट्रोलिंग के जरिए सुनिश्चित कर रही है ताकि पानी भी बर्बादी को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि जल संकट के दौरान दिल्ली को कम पानी मिल रहा है जिससे वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का उत्पादन घट गया है, इसलिए पानी की बर्बादी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि पानी की कमी के इस दौर में पाइपलाइन लीकेज से एक बूंद पानी भी बर्बाद न हो। उन्होंने कहा कि साथ ही इस इस बारे में भी प्रयासरत है कि, हरियाणा और हिमाचल से हमें अतिरिक्त पानी मिले क्योंकि अभी की परिस्थिति में दिल्ली को पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है।