ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRकहां हैं आपके सातों सांसद? जल संकट पर फिर बीजेपी पर भड़के संजय सिंह, लगाया गंभीर आरोप

कहां हैं आपके सातों सांसद? जल संकट पर फिर बीजेपी पर भड़के संजय सिंह, लगाया गंभीर आरोप

दिल्ली में जल संकट की समस्या को लेकर लगातार बीजेपी और आम आदमी पार्टी पर आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। इस बीच संजय सिंह ने अब दिल्ली के सातों सांसदों पर सवाल खड़ा कर दिया है।

कहां हैं आपके सातों सांसद? जल संकट पर फिर बीजेपी पर भड़के संजय सिंह, लगाया गंभीर आरोप
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 14 Jun 2024 05:16 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में जल संकट को लेकर जारी सियासी हंगामे के बीच आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने दिल्ली के सातों बीजेपी सांसदों की चुप्पी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोगों ने दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर बीजेपी उम्मीदवार को जिताया लेकिन इसके बावजूद हरियाणा की बीजेपी सरकार दिल्ली के लोगों को सजा दे रही है। उन्होंने कहा, हरियाणा की BJP सरकार दिल्ली के हक़ का पानी रोककर हमसे दुश्मनी निकाल रही है। मैं कहना चाहता हूं कि आप हमसे दुश्मनी निकालिए लेकिन दिल्ली के लोगों को परेशान मत कीजिए।  

उन्होंने सातों सांसदों की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा, वे सातों सांसद कहा हैं। पानी पिलाने से ज्यादा पुण्य का काम क्या हो  सकता है। मैं उन सातों सांसदों से कहना चाहता हूं कि कम से कम केंद्र सरकार और हरियाणा से अपील कीजिए  और अपने एलजी से जाकर मुलाकात कीजिए। पानी के मामले में ऐसा भेदभाव मत कीजिए। बता दें, आम आदमी पार्टी  लगातार हरियाणा पर दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं छोड़ने का आरोप लगा रही है। उधर दिल्ली सरकार में जल मंत्री आतिशी ने शुक्रवार को कहा कि यमुना का पानी कम पहुंचने से दिल्ली में लगातार पानी का उत्पादन घट रहा है।

आतिशी ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म 'एक्स' पर एक पोस्ट में कहा, ''यमुना का पानी कम पहुंचने से दिल्ली में लगातार पानी का उत्पादन घट रहा है। सामान्य परिस्थिति में दिल्ली में 1005 एमजीडी (दस लाख गैलन प्रति दिन) पानी का उत्पादन होता है लेकिन पिछले एक हफ्ते से यह लगातार घट रहा है।'' उन्होंने कहा, ''उत्पादन कम होने से, दिल्ली के कई हिस्सों में पानी की कमी है। सभी से अनुरोध है कि पानी का प्रयोग बहुत किफायती तरीके से करें।''

मंत्री ने कुछ आंकड़े साझा करते हुए कहा कि छह जून को पानी का उत्पादन 1002 एमजीडी था, जो अगले दिन यानी सात जून को 993 एमजीडी और आठ जून को 990, नौ जून को 978 एमजीडी, 10 जून को 958 एमजीडी, 11 जून को 919, 12 जून को 951 और 13 जून को 939 एमजीडी रह गया।