ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRप्यासी दिल्ली के लिए और टेंशन! AAP सरकार ने बताया अब कितना कम बचा पानी

प्यासी दिल्ली के लिए और टेंशन! AAP सरकार ने बताया अब कितना कम बचा पानी

दिल्ली में जारी भीषण जल संकट के बीच दिल्ली सरकार की जल मंत्री अतिशी ने एक हाईलेवल इमरजेंसी मीटिंग के बाद बताया दिल्ली में जो पानी की सप्लाई आ रही है उसमें लगातार कमी हो रही है।

प्यासी दिल्ली के लिए और टेंशन! AAP सरकार ने बताया अब कितना कम बचा पानी
Praveen Sharmaनई दिल्ली। एएनआईSat, 15 Jun 2024 02:28 PM
ऐप पर पढ़ें

भीषण जल संकट से जूध रही दिल्ली को अभी कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है। दिल्ली सरकार की जल मंत्री अतिशी ने आज एक हाईलेवल इमरजेंसी मीटिंग के बाद बताया दिल्ली में जो पानी की सप्लाई आ रही है उसमें लगातार कमी हो रही है। अतिशी ने कहा कि वजीराबाद तालाब में पानी लगभग खत्म हो चुका है। जल मंत्री ने बताया कि मुनक नहर, जिसे दो अन्य नहरों से पानी मिलता है, उसमें भी पानी की कमी हो गई है। दिल्ली में पानी का उत्पादन 70 एमजीडी तक कम हो गया है। मुनक नहर से पानी मिलने वाले सभी 7 वाटर ट्रीटमेंट प्लांट कम पानी दे रहे हैं। 

सामान्य स्थिति में हमारे वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में 1005 MGD पानी का उत्पादन किया जाता था, लेकिन अब ये आंकड़ा लगातार गिर रहा है। आतिशी ने कहा कि 14 जून को ये आंकड़ा घटकर 932 MGD पर पहुंच गया। 

डीजेबी के टैंकर एक दिन में 10000 चक्कर लगा रहे

आतिशी ने बताया कि दिल्ली के कई इलाकों में इमरजेंसी ट्यूबवेल बनाए गए हैं और उन्हें वॉटर सप्लाई से लिंक किया गया है। खासकर बवाना, द्वारका और नांगलोई में... दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) के टैंकर एक दिन में 10000 चक्कर लगा रहे हैं। डीजेबी टैंकरों के जरिए करीब 10 एमजीडी पानी की आपूर्ति कर रहा है।

उन्होंने कहा कि हमने दिल्ली जल बोर्ड को कहा है कि जहां-जहां पर भी टैंकर की आवश्यकता है, वहां अगले 24 घंटों में आकलन करें और वहां अतिरिक्त टैंकर मुहैया कराएं। पानी के टैंकरों के निर्धारित स्थान भी बढ़ाए जा रहे हैं। पानी की कमी वाले नए इलाके सामने आ रहे हैं।

दिल्ली की जल मंत्री ने कहा कि कल अपर यमुना रिवर बोर्ड की बैठक में हिमाचल प्रदेश ने फिर से दोहराया है कि वह दिल्ली को पानी देने के लिए तैयार है। हिमाचल प्रदेश ने स्पष्ट किया है कि ऊपरी यमुना के अपने हिस्से में से उसके पास 130 क्यूसेक अतिरिक्त पानी है। सीएम सुखविंदर सुक्खू ने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है, चूंकि अपर यमुना रिवर बोर्ड को गणना का आकलन करने में कुछ समय लग सकता है, इसलिए दिल्ली ने हरियाणा से मानवीय अपील की है, जिसमें राज्य से दिल्ली के लिए कुछ अतिरिक्त पानी छोड़ने का आग्रह किया गया है।

उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने हरियाणा सरकार के अधिकारियों से भी बात की है और पूरी संभावना है कि दिल्ली के वरिष्ठ अधिकारियों का एक प्रतिनिधिमंडल चंडीगढ़ जाकर हरियाणा के अधिकारियों से मुलाकात करेगा। मैं दिल्ली के लोगों से भी आग्रह करती हूं कि वे उपलब्ध पानी का सावधानीपूर्वक उपयोग करें।

दिलीप पांडे ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री सी.आर. पाटिल को लिखा पत्र

वहीं, दिल्ली में जल संकट के बीच दिल्ली विधानसभा के मुख्य सचेतक दिलीप पांडे ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री सी.आर. पाटिल को पत्र लिखा है। दिलीप पांडे ने दिल्ली को अधिक पानी उपलब्ध कराने के लिए उत्तर भारतीय राज्यों के साथ हस्तक्षेप और समन्वय की मांग की है। उन्होंने दिल्ली के विधायकों की ओर से भी बैठक का अनुरोध किया है।