ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली के जलसंकट से निपटने को एलजी ने संभाली कमान, जल मंत्री आतिशी के साथ कल बैठक

दिल्ली के जलसंकट से निपटने को एलजी ने संभाली कमान, जल मंत्री आतिशी के साथ कल बैठक

दिल्ली के जल संकट पर अब एलजी वीके सक्सेना ने कमान संभाल ली है। वह जल मंत्री आतिशी के साथ इस मसले पर बैठक करने वाले हैं। आतिशी ने कहा था कि एक या दो दिन में दिल्ली में जल संकट गंभीर हो जाएगा।

दिल्ली के जलसंकट से निपटने को एलजी ने संभाली कमान, जल मंत्री आतिशी के साथ कल बैठक
atishi big allegation on lg regarding loksabha election voting
Krishna Singhभाषा,नई दिल्लीSun, 09 Jun 2024 11:02 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में जल संकट गहराता जा रहा है। दिल्ली की जल मंत्री आतिशी का कहना है कि यदि हरियाणा सरकार पानी की मात्रा नहीं बढ़ती है तो एक या दो दिन में पूरी दिल्ली में जल संकट गंभीर हो जाएगा। अब दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने इस मसले पर पहल शुरू की है। एलजी सोमवार को जल मंत्री आतिशी से मुलाकात करेंगे। इस बैठक में दोनों नेताओं के बीच मुनक नहर से कम पानी छोड़े जाने के मसले पर चर्चा होगी। राजनिवास के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 

बता दें कि आतिशी ने जल संकट के मुद्दे पर एक आपातकालीन बैठक के लिए वीके सक्सेना से समय मांगा था। उन्होंने दावा किया कि दिल्ली को नहर से 1,050 क्यूसेक पानी मिलना चाहिए, लेकिन यह घटकर केवल 840 क्यूसेक रह गया है। आतिशी ने कहा कि दिल्ली के माननीय उपराज्यपाल से आपात बैठक के लिए समय मांगा है ताकि अपर्याप्त पानी छोड़े जाने के बारे में उनको बताया जा सके। इस पोस्ट पर राज निवास दिल्ली ने कहा कि उपराज्यपाल कल पूर्वाह्न 11 बजे आतिशी के साथ बैठक करेंगे। 

राज निवास ने यह भी कहा है कि उपराज्यपाल ने अधिकारियों से हिमाचल और हरियाणा द्वारा छोड़े जाने वाले पानी की वास्तविक स्थिति का पता लगाने, दिल्ली में पानी की बर्बादी और रिसाव को रोकने के उपाय करने के बारे में जानकारी मांगी है। एलजी ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार वजीराबाद जलाशय की सफाई की स्थिति जानने के लिए भी जानकारी मांगी है। 

दिल्ली में जल संकट के बीच रविवार को काफी गहमागहमी का माहौल रहा। दिल्ली सरकार में जल मंत्री आतिशी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी को भी पत्र लिखकर तत्काल पानी छोड़ने का अनुरोध किया। यही नहीं उन्होंने उपराज्यपाल को लिखे पत्र में आतिशी ने लिखा कि मुनक कैनाल से दिल्ली को 1050 क्यूसेक पानी मिलना चाहिए, लेकिन वो अब घटकर 840 क्यूसेक रह गया है। अगर पानी की सप्लाई नहीं बढ़ी तो एक से दो दिन में दिल्ली के अंदर बड़ा संकट खड़ा हो सकता है।