ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR80 हजार करोड़ के घाटे में क्यों जल बोर्ड, जल संकट को लेकर फिर दिल्ली सरकार पर भड़की BJP

80 हजार करोड़ के घाटे में क्यों जल बोर्ड, जल संकट को लेकर फिर दिल्ली सरकार पर भड़की BJP

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा, फिलहाल दिल्ली एक बूंद के लिए संघर्ष कर रही है। कुछ महीनों में दिल्ली बाढ़ से जूझेगी क्योंकि उन्होंने नालों की सफाई नहीं की है।

80 हजार करोड़ के घाटे में क्यों जल बोर्ड, जल संकट को लेकर फिर दिल्ली सरकार पर भड़की BJP
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 04:12 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में जारी जल संकट के बीच दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने एक बार फिर दिल्ली सरकार पर हमला बोला है औरप लगाया है कि दिल्ली में जल संकट के लिए दिल्ली सरकार ही जम्मेदार है। दिल्ली सरकार के संरक्षण में पानी की चोरी हो रही है। जल संकट के लिए दिल्ली जल बोर्ड, उसके अधिकारी, चेयरमैन और दिल्ली सरकार जिम्मेदार हैं। फिलहाल दिल्ली एक बूंद के लिए संघर्ष कर रही है। कुछ महीनों में दिल्ली बाढ़ से जूझेगी क्योंकि उन्होंने नालों की सफाई नहीं की है।''

उन्होंने कहा, जो जल बोर्ड कभी मुनाफे में होता था वो आज 80 हजार करोड़ के घाटे में क्यों जूझ रहा है। इसका बहुत बड़ा कारण मैनेजमेंट है कि कैसे दिल्ली को लूटा जाए और कैसे अपनी जेबें भरी जाएं। पिछले 8 -10 सालों में आप पाइपलाइन की रिपेयरिंग नहीं कर पाए। आप लीकेज रोक नहीं सकते। पानी का वेसटेज रोक नहीं सकते। वीरेंद्र सचदेवा ने कहा, दिल्ली सरकार सामने आकर जवाब दे। अगर हम गलत कह रहे तों हम पर मुकदमा कर दें। उन्होंने दिल्ली की जनता से अपील करते हुए कहा, मैं दिल्ली वालों से भी अपील कर रहा हूं जो आपके घर में पानी आ रहा है कम से कम उबाल के पीजिए, इस दिल्ली सरकार के भरोसे मत रहना। दिल्ली सरकार का दायित्व था घर में पानी देना लेकिन इन्होंने इसे लूट का साधन बना दिया-

इससे पहले दिल्ली के उपराज्यपाल वी के सक्सेना ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी से बातचीत की है जिन्होंने उन्हें बताया है कि दिल्ली को उसके आवंटित हिस्से के मुताबिक ही पानी दिया जा रहा है। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने पिछले पखवाड़े में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित हरियाणा पर दिल्ली के पानी का हिस्सा रोकने का बार-बार बार आरोप लगाया है। राष्ट्रीय राजधानी इस अप्रत्याशित गर्मी में जल संकट से जूझ रही है।

उपराज्यपाल ने सोमवार को दिल्ली की मंत्री आतिशी एवं सौरभ भारद्वाज के साथ बैठक की थी और उन्हें आश्वासन दिया था कि वह हरियाणा सरकार के साथ जलापूर्ति का मुद्दा उठायेंगे। उन्होंने उन्हें ‘आरोप-प्रत्यारोप’ में नहीं उलझने तथा इस मुद्दे का सौहार्दपूर्ण तरीके से समाधान निकालने की सलाह दी थी।

सक्सेना ने मंगलवार को ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘‘ हरियाणा के माननीय मुख्यमंत्री श्री नायब सैनी जी से कल (मैंने) बातचीत की। उन्होंने दोहराया कि दिल्ली को उसके आवंटित हिस्से के मुताबिक पानी दिया जा रहा है । उन्होंने इस मौजूदा लू के कारण राज्य की अपनी बाध्यताओं के बावजूद सभी संभव मदद उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।’’

एजेंसी से इनपुट