ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRबर्फीली हवाओं से ठिठुरा दिल्ली-एनसीआर, 3 डिग्री तक पहुंच सकता है तापमान, वायु गुणवत्ता भी हुई 'खराब'

बर्फीली हवाओं से ठिठुरा दिल्ली-एनसीआर, 3 डिग्री तक पहुंच सकता है तापमान, वायु गुणवत्ता भी हुई 'खराब'

पश्चिमी हिमालय से चली बर्फीली हवाओं की वजह से दिल्ली-एनसीआर में कोहरा और कड़ाके की ठंड जारी है और शुक्रवार 'बेहद ठंडा' दिन हो सकता है। जगह-जगह लोग ठंड से बचने के लिए अब अलावा का सहारा...

बर्फीली हवाओं से ठिठुरा दिल्ली-एनसीआर, 3 डिग्री तक पहुंच सकता है तापमान, वायु गुणवत्ता भी हुई 'खराब'
नई दिल्ली। एजेंसियांFri, 18 Dec 2020 11:28 AM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिमी हिमालय से चली बर्फीली हवाओं की वजह से दिल्ली-एनसीआर में कोहरा और कड़ाके की ठंड जारी है और शुक्रवार 'बेहद ठंडा' दिन हो सकता है। जगह-जगह लोग ठंड से बचने के लिए अब अलावा का सहारा लेते दिख रहे हैं। मौसम विभाग ने आज दिल्ली में अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान लगाया है। वहीं, सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुसार, दिल्ली की वायु गुणवत्ता 'खराब' श्रेणी में पहुंच गई है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, गुरुवार को शहर में 'बेहद ठंडा' दिन रहा क्योंकि अधिकतम तापमान गिरकर 15.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जो कि सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस कम है और इस मौसम का यह अब तक का सबसे कम अधिकतम तापमान है।

मौसम से संबंधित शहर के आंकड़े मुहैया कराने वाली सफदरजंग वेधशाला ने न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। वहीं पालम स्टेशन ने न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया।

ठंडा दिन उसे कहते हैं जब न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से कम होता है और अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 4.4 डिग्री सेल्सियस नीचे होता है। वहीं 'बेहद ठंडा' दिन तब होता है जब अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 6.5 डिग्री सेल्सियस नीचे हो।

आईएमडी ने बताया कि शनिवार को दिल्ली में शीत लहर चलने का पूर्वानमान है और इसके सोमवार तक जारी रहने की संभावना है। आईएमडी मैदानी इलाकों के लिए शीत लहर की घोषणा तब करता है जब न्यूनतम तापमान लगातार दो दिन तक 10 डिग्री सेल्सियस या इससे नीचे हो और सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस कम हो। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली जैसे छोटे इलाकों के लिए शीत लहर की घोषण तब भी की जा सकती है जब उक्त स्थितियां एक दिन के लिए भी बन जाएं। 

उल्लेखनीय है कि 0 और 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 और 100 के बीच 'संतोषजनक', 101 और 200 के बीच 'मध्यम', 201 और 300 के बीच 'खराब', 301 और 400 के बीच 'बेहद खराब' और 401 से 500 के बीच 'गंभीर' (आपात) श्रेणी में माना जाता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें