ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRDelhi : जिनकी हत्या का केस दर्ज था, वो बहनें जिंदा निकलीं; 14 महीने बाद खुला यह राज

Delhi : जिनकी हत्या का केस दर्ज था, वो बहनें जिंदा निकलीं; 14 महीने बाद खुला यह राज

दिल्ली से करीब 14 महीने संदिग्ध परिस्थितियों में अपने घर से लापता हुईं दो सगी बहनों के केस में एक नया मोड़ आ गया है। पुलिस को अलग-अलग राज्यों में दोनों बहनें जिंदा मिल गई हैं।

Delhi : जिनकी हत्या का केस दर्ज था, वो बहनें जिंदा निकलीं; 14 महीने बाद खुला यह राज
Praveen Sharmaहिन्दुस्तान,नई दिल्ली गोरखपुरTue, 30 Apr 2024 07:49 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली से करीब 14 महीने संदिग्ध परिस्थितियों में अपने घर से लापता हुईं दो सगी बहनों के केस में एक नया मोड़ आ गया है। पुलिस को अलग-अलग राज्यों में दोनों बहनें जिंदा मिल गई हैं। लड़कियों के भाई ने उनके अपहरण के बाद हत्या कर शव गायब करने का आरोप लगाते अपने गांव के एक युवक पर मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर एफआईआर दर्ज कर विवेचना शुरू की तो दोनों बहनें पुलिस को बहनें जिंदा मिल गईं।

गोरखपुर के बेलघाट थाने पर पहुंचीं बहनों ने बताया कि वे घरवालों को बिना बताए अपने-अपने प्रेमियों के साथ घर से भाग गई थीं। एक हरियाणा तो दूसरी उत्तराखंड में रही थीं। दोनों के एक-एक बच्चा भी है। इसके बाद आरोपी युवक की बेगुनाही साबित हुई और वह जेल जाने से बच गया।

दरअसल, बेलघाट थाना क्षेत्र के एक गांव का रहने वाला युवक अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहता है। 3 जनवरी 2023 को वहीं से उसकी सगी बहनें लापता हो गई थीं। युवक ने इसकी सूचना दिल्ली के प्रेमनगर थाने में दी। पुलिस की जांच चल रही थी कि इसी बीच भाई को पता चला कि उसकी बहनों का गांव के एक युवक से प्रेम प्रसंग था।

इसके बाद भाई अपने गांव पहुंचा और युवक व उसके घरवालों से अपनी बहनों के बारे में पूछताछ करने लगा। युवक के घरवालों ने उसकी पिटाई कर धमकी देकर भगा दिया।

आरोपी बने युवक की मदद से मिला सुराग

जांच के दौरान पुलिस ने आरोपी लड़के के परिवार से संपर्क किया। युवक से पूछताछ के दौरान बहनों का सुराग मिल गया। आईओ ने दोनों बहनों को बताया कि उनकी हत्या का केस दर्ज है। उन्हें खुद थाने आकर अपने जिंदा होने का सबूत देना होगा। इसके बाद दोनों बहने अपने-अपने पति और बच्चों के साथ थाने पहुंचीं। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड और हरियाणा के रहने वाले लड़कों से उनका प्रेम संबंध हो गया था। घरवालों को रिश्ता मंजूर नहीं होता, इसलिए उन्हें बिना बताए उन्होंने भागकर शादी कर ली थी।