ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRचंद मिनटों में दिल्ली से सूरजपुर, अगले साल खुलेगी भंगेल एलिवेटेड रोड की लेन; लाखों को फायदा

चंद मिनटों में दिल्ली से सूरजपुर, अगले साल खुलेगी भंगेल एलिवेटेड रोड की लेन; लाखों को फायदा

एनसीआर के लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। भंगेल एलिवेटेड रोड का करीब 75 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। अगले साल इस रोड की एक लेन को खोला जाएगा। जिससे ट्रैफिक जाम से मुक्ति मिलेगी।

चंद मिनटों में दिल्ली से सूरजपुर, अगले साल खुलेगी भंगेल एलिवेटेड रोड की लेन; लाखों को फायदा
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नोएडाTue, 05 Dec 2023 07:19 AM
ऐप पर पढ़ें

भंगेल एलिवेटेड रोड का करीब 75 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। प्राधिकरण अधिकारियों का दावा है कि मार्च 2024 तक एलिवेटेड रोड की एक लेन को खोल दिया जाएगा। सेक्टर-41 आगाहपुर से फेज टू की तरफ जा सकेंगे। एलिवेटेड रोड पूरी तरह जुलाई-अगस्त 2024 तक बनकर तैयार होगा। डीएससी (दादरी-सूरजपुर-छलेरा) पर एलिवेटेड रोड का निर्माण चल रहा है। इसे सेक्टर-41 आगाहपुर से फेज टू स्थित नाले के पास तक बनवाया जाएगा। करीब सात महीने तक काम बंद होने के कारण इस साल अक्तूबर में दोबारा से एलिवेटेड रोड का काम शुरू हुआ था। 

लागत विवाद के कारण इसका काम बंद पड़ा था। प्राधिकरण अधिकारियों का दावा है कि अब इसका काम तेजी से चल रहा है। अभी पिलर नंबर-60, 122 और 145 पर पियर कैप बनाने का काम चल रहा है। पूरे ट्रैक पर करीब 12 पियर कैप होने बाकी रह गए है। कुल 145 बनने हैं। एलिवेटेड रोड के बनने से भंगेल-सलारपुर का जाम खत्म हो जाएगा। गौरतलब है कि इस एलिवेटेड रोड का निर्माण आठ जून 2020 को शुरू हुआ था। अनुबंध के तहत एलिवेटेड रोड का काम सात दिसंबर 2022 तक पूरा कर लिया जाना चाहिए था। ऐसे में अभी पूरी तरह एलिवेटेड रोड तैयार होने में करीब एक साल का समय लगेगा।

एलिवेटेड रोड का काम शुरू होते समय दो लूप बनने ही प्रस्तावित थे लेकिन बाद में सेवन एक्स के लोगों की मांग पर दो अतिरिक्त लूप बनाने का निर्णय नोएडा प्राधिकरण ने लिया। अब सेक्टर-49 हनुमान मूर्ति और सेक्टर-107 की ओर भी लूप बनाया जाएगा। इनको बनाने में करीब 30 करोड़ रुपए का खर्चा आएगा। लूप बनाने के लिए जल्द टेंडर जारी कर दिया जाएगा। यह खर्चा तय की गई नई लागत 607 करोड़ रुपए से अलग होगा। ऐसे में एलिवेटेड रोड को बनाने में करीब 637 करोड़ रुपए के आसपास खर्चा आएगा।

139 करोड़ अतिरिक्त लागत बढ़ गई 

प्राधिकरण और सेतु निगम के बीच आपसी सहमति से अतिरिक्त 139 करोड़ रुपए लागत तय की जा चुकी है। इसके अलावा 30 करोड़ रुपए का भुगतान दो लूप बनाने के लिए किया जाएगा। अभी तक एलिवेटेड रोड की कुल लागत 468 करोड़ रुपए तय है। सेतु निगम स्टील की मात्रा बढ़ने पर उसकी 97 करोड़ रुपए लागत और अन्य निर्माण सामग्री के रेट बढ़ने के लिए 48 करोड़ रुपए प्राधिकरण से अतिरिक्त मांग रहा था। अब प्राधिकरण और सेतु निगम के बीच 97 करोड़ के अलावा 48 की बजाए 42 करोड़ रुपए देने पर सहमति बनी। सहमति बनने पर नोएडा प्राधिकरण ने अक्तूबर व नवंबर महीने में 15 करोड़ रुपए भी दे दिए। पिछले सप्ताह करीब 10 करोड़ रुपए का भुगतान भी कर दिया था जिसके बाद सेतु निगम ने मौके पर काम शुरू करा दिया।

एक्सप्रेसवे का विकल्प बनेगा

अभी नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर धीरे-धीरे ट्रैफिक प्रभावित होना शुरू हो गया है। नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर जाम लगने पर यह एलिवेटेड रोड उसका विकल्प साबित होगा। चिल्ला बॉर्डर, डीएनडी व कालिंदी कुंज से आकर एक्सप्रेसवे होते हुए ग्रेनो की तरफ जाने वाले वाहन चालक एलिवेटेड रोड का इस्तेमाल कर चंद मिनटों में ग्रेनो के सूरजपुर तक पहुंच सकेंगे। यहां से गंतव्य की ओर जा सकते हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें