ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में भीषण गर्मी ने किया बुरा हाल, लगातार बढ़ रही बिजली की मांग; 8,656 मेगावाट पर पहुंची डिमांड

दिल्ली में भीषण गर्मी ने किया बुरा हाल, लगातार बढ़ रही बिजली की मांग; 8,656 मेगावाट पर पहुंची डिमांड

Delhi Electricity Demand: दिल्ली में भीषण गर्मी के चलते लगातार बिजली की डिमांड बढ़ रही है। कई इलाकों में घंटों बिजली कटौती का सामान करना पड़ रहा है। बिजली की मांग ने रिकॉर्ड तोड़ दिया।

दिल्ली में भीषण गर्मी ने किया बुरा हाल, लगातार बढ़ रही बिजली की मांग; 8,656 मेगावाट पर पहुंची डिमांड
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 08:32 AM
ऐप पर पढ़ें

भीषण गर्मी के बीच दिल्ली के कई इलाकों में घंटों बिजली कटौती का सामान करना पड़ रहा है, जिसके चलते लोगों को काफी परेशानी हो रही। इसी बीच लगातार दूसरे दिन दिल्ली में बिजली की मांग का रिकॉर्ड स्तर टूटा। बुधवार दोपहर को बिजली की मांग अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई। हालांकि, बिजली कंपनियों का कहना है कि बिजली की रिकॉर्ड मांग को बिना किसी बाधा के साथ पूरा किया जा रहा है।

बिजली की लगातार मांग बढ़ रही है। गर्मी से निजात पाने के लिए लोग एसी, कूलर और पंखों का इस्तेमाल कर रहे हैं। यही कारण है कि बुधवार दोपहर 03:06 बजे बिजली की मांग 8656 मेगावाट के रिकॉर्ड स्तर पर दर्ज की गई। इससे पहले भी मंगलवार को दिल्ली में बिजली की मांग का रिकॉर्ड टूटा था, जब दोपहर 03:22 बजे 8647 मेगावाट की मांग दर्ज की गई थी।

आंकड़ों के हिसाब से देखा जाए तो इससे वर्ष गर्मी के चलते बिजली की मांग के लगातार रिकॉर्ड टूट रहे हैं। 22 मई को अब तक के इतिहास में पहली बार बिजली की मांग 8000 मेगावाट दर्ज की गई थी। गर्मी के चलते बीते 31 दिन से दिल्ली के अंदर बिजली की मांग सात हजार मेगावाट से अधिक रही है। बीएसईएस राजधानी पावर लिमिटेड और बीएसईएस यमुना पावर लिमिटेड (बीवाईपीएल) की तरफ से कहा गया है कि मौजूदा वक्त में बिजली की मांग को पूरी तरह से पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

लोगों से अपील

बिजली कंपनियों का कहना है कि दिल्ली में 50 लाख से अधिक घरेलू उपभोक्ता हैं जो पंखे, एसी और कूलर का व्यापक स्तर पर उपयोग कर रहे हैं। ऐसे में बिजली कंपनियों से लोगों से अपील की है कि वो बिजली बचाने के लिए जरूरी उपाय करें।

ये उपाय अपनाएं

● उपभोक्ता दोपहर दो से चार बजे के बीच और रात में 10 से 12:30 बजे तक एसी को 26-27 डिग्री सेल्सियस पर चलाएं
● दोपहर दो से शाम के चार बजे और रात में 10 से 12:00 बजे तक आवश्यकता अनुसार ही एसी का इस्तेमाल करें
● दो इलेक्ट्रॉनिक गैजेट का एक साथ इस्तेमाल न करें। उदाहरण के लिए अगर एसी चला रहे हैं तो वॉशिंग मशीन का इस्तेमाल न करें
● जिस रूम में एसी लगा है, उसके दरवाजे को बंद रखें
● एसी के फिल्टर को हर माह साफ कराएं, एसी के साथ छत के पंखे को भी चलाएं जिससे कि पंखे की हवा एसी के ऊपर पड़ रहे दबाव को कम करे