ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRDelhi Pollution: दिल्ली में फिर खराब हुई आबोहवा, 4 दिन बाद बेहद खराब श्रेणी के पास पहुंचा प्रदूषण; जानें AQI

Delhi Pollution: दिल्ली में फिर खराब हुई आबोहवा, 4 दिन बाद बेहद खराब श्रेणी के पास पहुंचा प्रदूषण; जानें AQI

Delhii Pollution: शुक्रवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक जहां 145 दर्ज किया गया तो  वहीं शनिवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक 295 पर पहुंच गया। यह खराब श्रेणी में आता है

Delhi Pollution: दिल्ली में फिर खराब हुई आबोहवा, 4 दिन बाद बेहद खराब श्रेणी के पास पहुंचा प्रदूषण; जानें AQI
Swati Kumariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 10 Feb 2024 07:40 PM
ऐप पर पढ़ें

Delhi Pollution: तीन दिनों तक बेहद खराब श्रेणी में बना रहेगा प्रदूषण नई दिल्ली प्रमुख संवाददाताहवा की रफ्तार धीमी पड़ने के चलते राजधानी में बीते 24 घंटे के दौरान तेजी से प्रदूषण बढ़ा है। बीते चार दिनों से जहां प्रदूषण मध्यम श्रेणी में बना  हुआ था तो वहीं शनिवार को यह बेहद खराब श्रेणी के समीप पहुंच गया। शुक्रवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक जहां 145 दर्ज किया गया तो  वहीं शनिवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक 295 पर पहुंच गया। यह खराब श्रेणी में आता है, लेकिन 301 पहुंचते ही यह बेहद खराब श्रेणी में  चला जाएगा। विशेषज्ञों का मानना है कि अगले तीन दिनों तक प्रदूषण बेहद खराब श्रेणी में रहेगा। 

जानकारी के अनुसार राजधानी में हल्की बारिश के साथ हवा की रफ्तार बीते दिनों बढ़ी थी। इसके चलते दिल्ली में लगभग साढ़े तीन माह बाद  प्रदूषण से राहत मिली थी। लगभग 110 दिनों के बाद दिल्ली का प्रदूषण मध्यम श्रेणी में लौटा था। बीते कुछ दिनों से हवा की रफ्तार में बढ़ोत्तरी देखने को  मिली थी। इस दौरान हवा 20 से 25 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही थी। इसकी वजह से प्रदूषण के लिए जिम्मेदार कणों का तेजी से बिखराव हुआ। लेकिन शुक्रवार से हवा की रफ्तार कम हो गई है। शनिवार को दिल्ली में हवा की रफ्तार महज 4 से 6 किलोमीटर प्रतिघंटा रही।इसके चलते प्रदूषण में तेजी से बढ़ोत्तरी देखने को मिली। 

मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले कुछ दिनों तक हवा की रफ्तार 4 से 8 किलोमीटर के बीच ही बनी रहेगी। इस वजह से फिलहाल प्रदूषण  में कमी आने की संभावना नहीं है। शनिवार देर शाम से ही यह बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गया है। आगामी मंगलवार तक यह बेहद खराब श्रेणी में  ही बना रहेगा। आगामी 14 फरवरी को हवा की रफ्तार में मामूली तेजी आने का अनुमन है। इससे प्रदूषण में मामूली राहत मिल सकती है। शनिवार  को सबसे अधिक प्रदूषित वजीरपुर रहा जहां वायु गुणवत्ता सूचकांक 381 दर्ज किया गया। वहीं सबसे कम प्रदूषित लोधी रोड रहा जहां वायु  गुणवत्ता सूचकांक 180 दर्ज किया गया। 


अधिक प्रदूषित क्षेत्र
जगह                        वायु गुणवत्ता सूचकांक 
वजीरपुर                              381
द्वारका सेक्टर-8                       372
आनंद विहार                          367
जहांगीरपुरी                            366
नेहरु नगर                             362
बवाना                                350
रोहिणी                               349
शादीपुर                              346

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें