ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRअपने मोबाइल के साथ CM रेवंत रेड्डी हाजिर हों, दिल्ली पुलिस का समन; अमित शाह के फर्जी वीडियो वाले केस में ऐक्शन

अपने मोबाइल के साथ CM रेवंत रेड्डी हाजिर हों, दिल्ली पुलिस का समन; अमित शाह के फर्जी वीडियो वाले केस में ऐक्शन

न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से यह भी जानकारी दी है कि दिल्ली पुलिस ने सीएम से कहा है कि वो अपने उस मोबाइल फोन के साथ आएं जिसके जरिए फर्जी वीडियो एक्स पर शेयर किया गया था। 

अपने मोबाइल के साथ CM रेवंत रेड्डी हाजिर हों, दिल्ली पुलिस का समन; अमित शाह के फर्जी वीडियो वाले केस में ऐक्शन
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 29 Apr 2024 04:15 PM
ऐप पर पढ़ें

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के एडिटेड वीडियो के मामले में अब दिल्ली पुलिस ऐक्शन मोड में आ गई है। दिल्ली पुलिस की IFSO यूनिट ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री रेवंत रेड्डी को समन भेज कर जांच में शामिल होने के लिए बुलाया है। दिल्ली पुलिस की इस यूनिट ने सीएम रेवंत रेड्डी को 1 मई को जांच में शामिल होने के लिए कहा है। न्यूज एजेंसी ANI ने सूत्रों के हवाले से यह भी जानकारी दी है कि दिल्ली पुलिस ने सीएम से कहा है कि वो अपने उस मोबाइल फोन के साथ आएं जिसके जरिए फर्जी वीडियो एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर शेयर किया गया था। सूत्रों के हवाले से यह भी कहा जा रहा है कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के मोबाइल की जांच की जाएगी।

बताया जा रहा है कि सीएम रेवंत रेड्डी ने भी अपने एक्स अकाउंट से अमित शाह का यह फर्जी वीडियो शेयर किया था। तेलंगाना कांग्रेस के आधिकारिक एक्स अकाउंट के अलावा पार्टी के कुछ अन्य नेताओं ने भी यह वीडियो शेयर किया था। इस केस की जांच को लेकर दिल्ली पुलिस की एक टीम हैदराबाद में भी मौजूद है। फिलहाल दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम अब तेलंगाना के सीएम से पूछताछ करना चाहती है जिसके लिए उन्हें समन भेज कर बुलाया गया है। इधर इस केस में असम के गुवाहाटी से रितोम सिंह नाम के एक शख्स को फिलहाल गिरफ्तार भी किया गया है। राज्य के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने एक्स पर इस बात की जानकारी दी है।

यहां आपको बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह का एक फर्जी वीडियो सोशल मीडिया पर काफी शेयर किया जा रहा था। यह वीडियो आरक्षण को लेकर गृहमंत्री के संबोधन से जुड़ा था। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने रविवार को शिकायत मिलने के बाद केस दर्ज किया था। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के अलावा आईटी ऐक्ट के तहत भी केस दर्ज किया था। स्पेशल सेल से जुड़े सूत्रों के हवाले से यह कहा जा रहा था कि अब इस मामले में पुलिस देश में अलग-अलग जगहों से गिरफ्तारियां भी कर सकती है। 

इस मामले में Indian Cybercrime Coordination Centre (I4C), के डीसी, सिंकू शरण सिंह ने शिकायत दर्ज करवाई थी। इस शिकायत के मुताबिक, अमित शाह का फर्जी वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है कि जिसकी वजह से विभिन्न समुदायों के बीच तनाव बढ़ सकता है और शांति व्यवस्था प्रभावित हो सकती है। इस शिकायत में कुछ लिंक भी शेयर किए गए थे जिनके जरिए यह वीडियो शेयर किया गया है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए इसे साइबर पुलिस के  IFSO यूनिट के पास भेज दिया था।