ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR5 राज्यों में लेडी डॉन की तलाश, बर्गर किंग गोलीबारी मामले में सनसनीखेज खुलासे, स्पेशल सेल करेगी जांच

5 राज्यों में लेडी डॉन की तलाश, बर्गर किंग गोलीबारी मामले में सनसनीखेज खुलासे, स्पेशल सेल करेगी जांच

राजौरी गार्डन स्थित बर्गर किंग आउटलेट में हुई गोलीबारी और हत्या की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस की टीमें लेडी डॉन अनु धनकड़ की दिल्ली समेत पांच राज्यों में तलाश कर रही हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

5 राज्यों में लेडी डॉन की तलाश, बर्गर किंग गोलीबारी मामले में सनसनीखेज खुलासे, स्पेशल सेल करेगी जांच
Krishna Singhपीटीआई,नई दिल्लीMon, 24 Jun 2024 09:52 PM
ऐप पर पढ़ें

राजौरी गार्डन स्थित बर्गर किंग आउटलेट में 18 जून की रात को अमन जून नाम के शख्स की हत्या की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस की टीमें लेडी डॉन अनु धनकड़ की दिल्ली समेत पांच राज्यों में तलाश कर रही हैं। इसको लेकर दिल्ली पुलिस ने चार राज्यों में छापेमारी की है। हालांकि गैंगस्टर हिमांशु भाऊ की फरार गर्लफेंड लेडी डॉन अनु धनकड़ अब तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जांच को अब अपनी आतंकवाद निरोधी इकाई की स्पेशल सेल को सौंप दिया है।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के राजौरी गार्डन स्थित बर्गर किंग के आउटलेट में 18 जून की रात को ताबड़तोड़ गोलीबारी से इलाका दहल गया था। बर्गर किंग आउटलेट में एक महिला के साथ बैठे दो बदमाशों ने गोलियां बरसाकर अमन जून नाम के 26 वर्षीय शख्स की हत्या कर दी थी। पुलिस का कहना है कि अमन जून को करीब 38 गोलियां मारी गई थीं। 

एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, यह हत्या जेल में बंद गैंगस्टर नीरज बवाना और अशोक प्रधान के बीच गैंगवार का नतीजा थी। अमन जून हिमांशु भाऊ के विरोधी गुट के एक गैंगस्टर का बेहद करीबी बताया जाता है। स्पेन में रहने वाले भगोड़े गैंगस्टर हिमांशु भाऊ ने सोशल मीडिया पोस्ट में इस हत्याकांड की जिम्मेदारी लेते हुए कहा था कि उसके गिरोह ने बवाना के चचेरे भाई शक्ति सिंह की हत्या का बदला लिया है। 

हिमांशु भाऊ बवाना का करीबी सहयोगी बताया जाता है। माना जाता है कि अमन जून ने शक्ति सिंह के ठिकाने के बारे में गैंगेस्टर अशोक प्रधान को जानकारी दी थी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि अब स्पेशल सेल की दक्षिण-पश्चिमी जोन इकाई को मामले की जांच का जिम्मा दिया गया है। मामले में चार आरोपियों की पहचान कर ली गई है। इसी टीम को इन्हें पकड़ने की जिम्मेदारी भी दी गई है।

अधिकारी ने कहा कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच समेत कई अन्य टीमें हमलावरों को पकड़ने के लिए काम कर रही हैं। रविवार को सोशल मीडिया पर एक सीसीटीवी क्लिप सामने आई, जिसमें अमन जून के साथ आउटलेट पर मौजूद महिला कटरा रेलवे स्टेशन पर नजर आई है। वीडियो फुटेज में इस लेडी डॉन ने अपना चेहरा दुपट्टे से ढका हुआ है। 

पुलिस सूत्रों ने यह भी बताया कि मामले में फरार चल रही यह लेडी डॉन गुजरात जाने वाली ट्रेन में सवार हुई थी, लेकिन रास्ते में किसी स्टेशन पर उतर गई थी। सूत्रों ने कहा है कि महिला का इस्तेमाल बदमाशों ने अमन जून को हनीट्रैप में फंसाने के लिए किया था। पुलिस टीमों ने इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले शूटरों और संदिग्ध लेडी डॉन की तलाश में हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और गुजरात में छापेमारी की है। यह महिला गिरोह के सदस्यों के बीच लेडी डॉन के नाम से प्रसिद्ध है।