ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRअसली पुलिस ने शकरपुर के होटल में मारा नकली छापा, 24 लाख वसूले; तीन पर गिरी गाज

असली पुलिस ने शकरपुर के होटल में मारा नकली छापा, 24 लाख वसूले; तीन पर गिरी गाज

दिल्ली पुलिस के चार पुलिसकर्मियों ने शकरपुर के एक होटल में नकली छापा मारा। जिसकी जांच जिले की पीजी सेल को सौंप दी गई है और तीन पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया है। पुलिसकर्मियों ने 24 लाख वसूले।

असली पुलिस ने शकरपुर के होटल में मारा नकली छापा, 24 लाख वसूले; तीन पर गिरी गाज
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 18 Jun 2024 06:55 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस के चार पुलिसकर्मियों द्वारा एक होटल में नकली छापा मारकर करीब 24 लाख की वसूली करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि मामले की जांच जिले की पीजी सेल को सौंप दी गई है और तीन पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया है। हालांकि पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त से इस मामले में जानकारी मांगी गई, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। हरियाणा के जींद निवासी पवन कुमार ने बताया कि उनके दोस्त शमशेर सिंह का बेटा ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई कर रहा है। पवन भी बेटे को ऑस्ट्रेलिया भेजना चाहते थे। शमशेर ने अपने एक जानकार से बात की। 

जानकार ने 23 लाख रुपये मांगे। बेटे के दस्तावेज लेने के बाद टिकट का चार लाख रुपए का खर्च अलग बताया। जाने के लिए 29 मई का दिन तय हुआ। पवन को कहा गया कि आप रकम लेकर दिल्ली के लक्ष्मी नगर इलाके के होटल लेकर रुकें। पवन ने लक्ष्मी नगर की जगह शकरपुर में होटल ले लिया, जिस पर आरोपियों ने नाराजगी जाहिर की। 29 मई को एक आदमी पवन के रूम पर पहुंचा और रुपयों की वीडियो बनाई। पवन ने बताया कि आरोपियों ने फंसाने की धमकी देकर 24 लाख रुपये वसूल लिए।

क्या है पूरा मामला

पीड़ित पवन ने बताया कि 29 मई को एक आदमी होटल रूम में पहुंचा और रुपयों की वीडियो बनाई। फोन पर किसी से बात करते हुए कहा कि मैं रुपयों के पास बैठा हूं। फोन कटते ही रूम पर पुलिस ने दस्तक दी। आई होल से बाहर देखा तो सामने पुलिस खड़ी थी। शमशेर ने गेट खोला तो अपने सामने तीन वर्दीधारी और एक सादे कपड़ों में पुलिसकर्मियों को पाया। सादे कपड़े वाले ने खुद को लक्ष्मी नगर का एसएचओ बताया। जब उनसे वहां आने का कारण पूछा तो बताया कि उन्हें हथियार होने की सूचना मिली है। इस दौरान शमशेर ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया। एक पुलिसवाले ने कहा कि यह वीडियो बनाना महंगा पड़ेगा लेकिन शमशेर ने वीडियो बनाना जारी रखा।

एप्लिकेशन लिखवाई

होटल में हंगामा हो-हल्ला होने पर पुलिसवाले पवन, शमशेर और दूसरे साथियों को लक्ष्मी नगर पुलिस स्टेशन ले आए। थाने में कहा कि तुम हवाला का काम करते हो, पाकिस्तान से तुम्हारे लिंक हैं। जब दोनों ने इससे इंकार किया और छोड़ने की मिन्नतें कीं तो इंस्पेक्टर ने उन्हें ऑफर दिया कि पैसे छोड़कर चले जाओ या पैसे जमा करवाकर जेल जाओ। जाते हुए पुलिसवाले ने अन्य पुलिसवालों से कहा कि अगर ये पैसे छोड़ दें तो जाने देना वरना बंद कर देना। पुलिसवालों ने उन्हें घर जाने के लिए 50 हजार रुपए दिए। इसके अलावा एसएचओ के नाम पर एप्लिकेशन लिखवाई जिसमें लिखवाया गया कि भतीजे को विदेश भेजने को लेकर एजेंट से हमारी कहासुनी हुई। जिसपर एजेंट ने पुलिस बुला ली। अब हमारा समझौता हो गया है और हमें आगे की कार्रवाई नहीं करनी।

Advertisement