ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRबीजेपी के खिलाफ आप का हल्लाबोल, पुलिस-अर्धसैनिक बल तैनात; केजरीवाल-मान होंगे शामिल

बीजेपी के खिलाफ आप का हल्लाबोल, पुलिस-अर्धसैनिक बल तैनात; केजरीवाल-मान होंगे शामिल

दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय के बाहर शुक्रवार को आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता मुख्यमंत्री अऱविंद केजरीवाल और भगवंत मान विरोध प्रदर्शन करेंगे। ऐसे में दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा कड़ी कर दी है।

बीजेपी के खिलाफ आप का हल्लाबोल, पुलिस-अर्धसैनिक बल तैनात; केजरीवाल-मान होंगे शामिल
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 02 Feb 2024 07:57 AM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) शुक्रवार को चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के आरोपों को लेकर भाजपा मुख्यालय पर प्रदर्शन करेगी। जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान समेत पार्टी के अन्य नेता व कार्यकर्ता शामिल होंगे। इसके मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी के मध्य भागों में सुरक्षा कड़ी कर दी है। पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता प्रदर्शन करने सड़क पर उतरेंगे। 

आप का आरोप है कि किसी भी समीकरण के आधार पर भाजपा मेयर का चुनाव नहीं जीत सकती थी, लेकिन सोची समझी साजिश के तहत चुनाव को जीता गया। इस मामले को लेकर व्यापक स्तर पर पार्टी विरोध प्रदर्शन करेगी। वहीं पुलिस का कहना है कि उन्होंने प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी है। लेकिन प्रदर्शनकारी आप कार्यकर्ताओं और समर्थकों को नियंत्रित करने के लिए दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के लगभग एक हजार जवानों को तैनात किया जाएगा।

वरिष्ठ अधिकारियों सहित तीन जिलों से दिल्ली पुलिसकर्मियों को बुलाया गया है, जिन्हें प्रदर्शनस्थल के आसपास तैनात किया जाएगा। अर्धसैनिक बलों की आठ कंपनियां भी बुलाई गई हैं। आप ने बताया कि मध्य दिल्ली में आईटीओ के पास डीडीयू मार्ग पर भाजपा मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन की योजना बनाई गई है। भाजपा ने कहा कि वह आप मुख्यालय के बाहर, उसी क्षेत्र में काउंटर करेगी। समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस किसी भी घटना से बचने के लिए सड़क को ब्लॉक कर सकती है, जिससे ट्रेफिक जाम हो सकती है।

डीसीपी रैंक के अधिकारी भी रहेंगे तैनात

दरअसल, डीडीयू मार्ग पर बीजेपी और आप दोनों का मुख्यालय है। प्रदर्शन स्थल पर 10 से ज्यादा एसीपी रैंक के अधिकारी तैनात रहेंगे। 

बता दें कि, मंगलवार को हुए चंडीगढ़ मेयर चुनाव में भारतीय जनता पार्टी जीत गई थी। आम आदमी पार्टी का आरोप है कि बीजेपी संख्याबल के लिहाज से कांग्रेस और आम आदमी पार्टी गठबंधन से पीछे थी। 20 पार्षदों वाला गठबंधन मेयर चुनाव में हार गया और 16 वोट के साथ भाजपा का मेयर जीत गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें