ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCR'AAP विधायकों की खरीद की कोशिश के दें सबूत...', नोटिस लेकर फिर केजरीवाल के घर पहुंची क्राइम ब्रांच

'AAP विधायकों की खरीद की कोशिश के दें सबूत...', नोटिस लेकर फिर केजरीवाल के घर पहुंची क्राइम ब्रांच

आम आदमी पार्टी (आप) के कुछ विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त की कोशिश संबंधी अरविंद केजरीवाल के दावे की जांच के सिलसिले में दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एक टीम आज दोबारा मुख्यमंत्री आवास पर पहुंची है।

'AAP विधायकों की खरीद की कोशिश के दें सबूत...', नोटिस लेकर फिर केजरीवाल के घर पहुंची क्राइम ब्रांच
Praveen Sharmaनई दिल्ली। लाइव हिन्दुस्तानSat, 03 Feb 2024 11:48 AM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) के कुछ विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त की कोशिश संबंधी अरविंद केजरीवाल के दावे की जांच के सिलसिले में दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के अफसरों की एक टीम आज दोबारा से सिविल लाइंस इलाके में मुख्यमंत्री आवास पर पहुंच गई है। हालांकि, क्राइम ब्रांच की टीम को अभी तक अंदर जाने नहीं दिया गया है। क्राइम ब्रांच के अफसर अभी सीएम आवासर के बाहर ही अंदर से जवाब आने का इंतजार कर रह हैं। 

एएनआई के मुताबिक, एसीपी पंकज अरोड़ा की अगुवाई में क्राइम ब्रांच की टीम नोटिस लेकर सीएम केजरीवाल के आवास पर पहुंची है। वहीं, दिल्ली सीएमओ सूत्रों का दावा है, "सीएम कार्यालय नोटिस स्वीकार करने के लिए तैयार है। क्राइम ब्रांच के अधिकारी सीएम कार्यालय को 'रिसीविंग' नहीं दे रहे हैं।"

वहीं, दिल्ली पुलिस सूत्रों का कहना है कि नोटिस केवल उसी व्यक्ति को दिया जाता है जिसके नाम पर यह जारी किया गया है, इसलिए आज एक बार फिर अधिकारी सीएम आवास पहुंचे हैं।

बता दें कि, शुक्रवार को भी पुलिस अधिकारी भाजपा के खिलाफ आम आदमी पार्टी के 'आप' विधायकों को खरीदने की कोशिश करने के आरोप के संबंध में नोटिस देने के लिए यहां आए थे। दिल्ली पुलिस ने उनसे सबूत देने को कहा था। आम आदमी पार्टी की ओर से उनकी सरकार गिराने के लिए 'आप' के कुछ विधायकों की खरीद-फरोख्त करने का प्रयास का दावा किया गया था। वहीं, भाजपा ने 'आप' के आरोपों को गलत और बेबुनियाद बताते हुए दिल्ली पुलिस से इसकी जांच करने की अपील की थी।

इसके बाद 'आप' के इन गंभीर आरोपों की जांच के सिलसिले में क्राइम ब्रांच की टीमें शुक्रवार को इस मामले में पूछताछ के लिए नोटिस लेकर 'आप' के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल और दिल्ली की मंत्री आतिशी के आवास पर पहुंची थी।

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, सूत्रों ने कहा कि उन्हें कल शाम को नोटिस नहीं दिया जा सका क्योंकि केजरीवाल के आवास पर अधिकारियों ने इसे लेने से इनकार कर दिया था और आतिशी भी आवास पर मौजूद नहीं थीं।

आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार रात इस बारे में जानकारी देते हुए बताया था कि क्राइम ब्रांच के अधिकारियों की एक टीम पूछताछ से संबंधित नोटिस देने के लिए केजरीवाल के आवास पर पहुंची है। केजरीवाल ने कुछ दिन पहले आरोप लगाया था कि 'आप' के सात विधायकों से संपर्क किया गया और उनमें से प्रत्येक को दलबदल करने के लिए 25 करोड़ रुपये ऑफर किए गए। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि कथित शराब घोटाले में उन्हें गिरफ्तार करने और दिल्ली में उनकी सरकार को गिराने की साजिश रची जा रही है।

वहीं, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने इस पर पलटवार करते हुए कहा था कि इससे यह पता चलता है कि केजरीवाल राजनीतिक रूप से कितने हताश हो गए हैं। उनका यह निराधार आरोप अपना राजनीतिक अस्तित्व बचाए रखने की कोशिश है।

उन्होंने कहा था कि यह आरोप कि भाजपा दिल्ली की 70 सदस्यीय विधानसभा में 62 सदस्यों वाले सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के विधायकों को तोड़ना चाहती है, उसके मानसिक दिवालियापन को दर्शाता है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें