ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR13 साल के बच्चे ने भेजी थी फ्लाइट को बम से उड़ाने वाली धमकी, ईमेल भेजने के पीछे वजह भी बताई

13 साल के बच्चे ने भेजी थी फ्लाइट को बम से उड़ाने वाली धमकी, ईमेल भेजने के पीछे वजह भी बताई

आईजीआई एयरपोर्ट से दुबई जाने वाले विमान में बम की कॉल करने वाले 13 साल बच्चे को पुलिस ने पकड़ लिया है। पुलिस ने बच्चे  के पास से  वह मोबाइल जब्त किया है।

13 साल के बच्चे ने भेजी थी फ्लाइट को बम से उड़ाने वाली धमकी, ईमेल भेजने के पीछे वजह भी बताई
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 23 Jun 2024 01:55 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में स्कूलों से लेकर एयरपोर्ट तक कई बार बम की धमकी मिल चुकी है। हर बार धमकी पर पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों ने तुरंत और चप्पे-चप्पे पर बम की तलाश की लेकिन हर बार यह धमकी अफवाह साबित हुई। पिछले दिनों दिल्ली एयरपोर्ट ऐसा ही एक और धमकी भरा ईमेल आया था। इस ईमेल में दिल्ली से दुबई जाने वाली फ्लाइट में बम होने की सूचना दी गई थी जिसके बाद तुरंत विमान की जांच की गई। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों को इसमें कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला। लेकिन दिल्ली पुलिस ने उस शख्स का पता लगा लिया है जिसने यह धमकी भरा ईमेल भेजा।

यह धमकी किसी बड़े आतंकी संगठन या किसी नामी बदमाश ने नहीं बल्कि एक 13 साल के बच्चे ने भेजी थी। जी हां विमान में बम कॉल कर यात्रियों एवं सुरक्षा एजेंसी की परेशानी बढ़ाने वाला एक बार फिर स्कूली छात्र निकला है। आईजीआई एयरपोर्ट से दुबई जाने वाले विमान में बम की कॉल करने वाले 13 साल बच्चे को पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस ने बच्चे  के पास से  वह मोबाइल जब्त किया है जिससे बम होने का मेल भेजा गया था। बच्चे ने पुलिस को बताया कि सोशल मीडिया पर विमान में बम  की खबर देखकर उसने यह मेल भेजा था।

बता दें, 17 जून को दिल्ली से दुबई जाने वाले एक विमान में बम रखा होने की धमकी ईमेल के जरिए दी गई थी। ईमेल मिलके ही हड़कंप मच गया।  इसके बाद सुरक्षा एजेंसियों ने तुरंत सुरक्षा बढ़ाते हुए फ्लाइट की तलाशी ली लेकिन कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला। बाद में धमकी अफवाह साबित हुई।  पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 17 जून को सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर आईजीआई हवाई अड्डे के डायल कार्यालय को ई-मेल प्राप्त हुआ जिसमें दिल्ली से दुबई जाने वाली उड़ान में बम रखा होने की धमकी दी गई थी।

कैसे पकड़ा गया लड़का?

 आईजीआई एयरपोर्ट की डिप्टी पुलिस कमिश्नर  उषा रंगनानी ने कहा कि लड़के ने इसी तरह की एक खबर में एक अन्य लड़के प्रभावित होकर सिर्फ मनोरंजन के लिए मेल भेजा था। शिकायत के आधार पर, एक एफआईआर दर्ज की गई और जांच शुरू की गई। डीसीपी ने कहा, यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी दिशानिर्देशों, प्रोटोकॉल और एसओपी का पालन किया गया। उन्होंने कहा, एयरपोर्कोट हाई अलर्ट पर रखा गया और इमरजेंसी घोषित कर दी गई थी। हालांकि जांच के दौरान धमकी झूठी निकली।

रंगनानी ने कहा, जांच के दौरान पता चला कि ईमेल भेजने के तुरंत बाद ई-मेल आईडी हटा दी गई थी। ईमेल का पता उत्तरांचल के पिथौरागढ़ में लगाया गया था। उन्होंने कहा, एक टीम भेजी गई और फर्जी ईमेल भेजने के आरोप में लड़के को पकड़ लिया गया। लड़के ने पुलिस टीम को बताया कि उसके माता-पिता ने उसे पढ़ाई के लिए एक मोबाइल दिया था जिसके माध्यम से उसने ईमेल भेजा और बाद में अपनी आईडी हटा दी। ईमेल भेजने के बाद लड़का इतना डर गया था कि उसने अपने माता-पिता को भी कुछ नहीं बताया। 
 

Advertisement