ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRदिल्ली पुलिस ने पंजाब के कुख्यात गैंगस्टर को यूपी के बरेली से किया गिरफ्तार, खालिस्तानी आतंकी से जुड़े हैं तार

दिल्ली पुलिस ने पंजाब के कुख्यात गैंगस्टर को यूपी के बरेली से किया गिरफ्तार, खालिस्तानी आतंकी से जुड़े हैं तार

आईएसआई समर्थित खालिस्तानी आतंकवादी हरविंदर सिंह उर्फ ​​रिंडा के करीबी सहयोगी कवर रणदीप सिंह को 12 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। कवर रणदीप सिंह पहले आठ से अधिक आपराधिक मामलों में शामिल था।

दिल्ली पुलिस ने पंजाब के कुख्यात गैंगस्टर को यूपी के बरेली से किया गिरफ्तार, खालिस्तानी आतंकी से जुड़े हैं तार
Praveen Sharmaनई दिल्ली | पीटीआईThu, 22 Sep 2022 10:18 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गैंगस्टर से आतंकवादी बने रिंडा के सहयोगी को उत्तर प्रदेश के बरेली से गिरफ्तार किया है। आरोपी कवर रणदीप सिंह उर्फ खारौद (Kawar Randeep Singh aka SK Kharoud) पंजाब का 'ए' कैटेगरी का अपराधी है और दो साल से अधिक समय से वॉन्टेड था।

अधिकारियों ने गुरुवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पंजाब का रहने वाला कवर आईएसआई समर्थित खालिस्तानी आतंकवादी हरविंदर सिंह उर्फ ​​रिंडा का करीबी साथी है।

स्पेशल सेल ने हाल ही में 29 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के नालागढ़ कोर्ट परिसर में दिनदहाड़े फायरिंग के मामले को सुलझाया था। इस मामले में चारों हमलावरों को उनके हैंडलर-सहयोगी, फाइनेंसर और हथियार सप्लायर के साथ गिरफ्तार किया गया था। उस ऑपरेशन में गिरफ्तार आरोपियों में एक गगनदीप भी था। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि उसकी गिरफ्तारी ने पुलिस को कवर रणदीप सिंह तक पहुंचने में मदद की।

कवर रणदीप को 12 सितंबर को किया गया था गिरफ्तार

पुलिस ने कहा कि शुरुआती तकनीकी सुराग के बाद एक संदिग्ध का पता लगाने के प्रयास किए गए जो सीमा पार से अपराधियों और आतंकवादियों के संपर्क में था। संदिग्ध का पता बरेली के खाई खेरा गांव का था। पुलिस ने कहा कि हरविंदर सिंह के आपराधिक-आतंकवादी गठजोड़ के करीबी सहयोगी कवर रणदीप सिंह को 12 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। कवर रणदीप सिंह पहले आठ से अधिक आपराधिक मामलों में शामिल था।

पुलिस ने कहा कि उसके पास से एक चीनी पीएक्स-9 सहित पांच अत्याधुनिक सेमी-ऑटोमेटिक पिस्टल, गोला-बारूद, सेल फोन और कई सिम कार्ड बरामद किए हैं।

जेल में रहते हुए वह हरविंदर सिंह के संपर्क में आया और उससे जुड़ गया। पुलिस ने कहा कि हरविंदर सिंह के साथ, कवर रणदीप सिंह पांच आपराधिक मामलों में शामिल था, उनमें से एक 2016 में चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में भारतीय छात्र संगठन (अकाली) के तत्कालीन अध्यक्ष मनप्रीत सिंह औलख पर हथियार से हमला था।

कई गंभीर अपराधों में रह चुका है शामिल

उन्होंने कहा कि कवर रणदीप सिंह, हरविंदर सिंह के करीबी सहयोगी गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह दहन से भी जुड़ा था और कई अन्य अपराधों में उसके साथ सह-आरोपी रहा है। पटियाला निवासी एक निर्वाचित सरपंच और जेल में बंद गैंगस्टर वीरेंद्र उर्फ ​​बिंदर गुर्जर के सहयोगी तारा दत्त की हत्या करने के बाद कवर रणदीप सिंह ने बरेली में शरण ली थी।

अधिकारियों ने कहा कि एक बार फिर से वह बरेली में हरविंदर सिंह के साथ जुड़ गया और उसे सिख समुदाय की मुक्ति के लिए काम करने और हथियार और गोला-बारूद जमा करने के लिए उकसाया जा रहा था।

पुलिस ने कहा कि हरविंदर सिंह के अलावा, वह वीरेंद्र प्रताप उर्फ ​​कला रांजा – 2022 में थाईलैंड से निर्वासित – और लॉरेंस बिश्नोई सिंडिकेट के सतेंद्रजीत सिंह उर्फ ​​​​गोल्डी बराड़ के साथ भी जुड़ा हुआ था। रांजा, भारत निर्वासित होने से पहले, कवर रणदीप सिंह को ठिकाने उपलब्ध करा रहा था। पुलिस ने बताया कि हरविंदर सिंह की ओर से बराड़ कवर रणदीप सिंह की सेफ कस्टडी और इस्तेमाल के लिए हथियारों की खेप पहुंचा रहा था।

epaper