ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRगुरुग्राम के दो युवकों ने स्विगी अकाउंट हैक कर दिए 1 लाख के ऑर्डर, फिर क्या हुआ?

गुरुग्राम के दो युवकों ने स्विगी अकाउंट हैक कर दिए 1 लाख के ऑर्डर, फिर क्या हुआ?

दिल्ली पुलिस ने दो ऐसे आरोपियों का खुलासा किया है जिन्होंने कई स्विगी अकाउंट को हैक ऑर्डर दिए और बाद में इन्हें कम कीमतों पर बेच कर मुनाफा कमाया। आरोपियों ने कैसे हैक किए अकाउंट जानें...

गुरुग्राम के दो युवकों ने स्विगी अकाउंट हैक कर दिए 1 लाख के ऑर्डर, फिर क्या हुआ?
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,गुरुग्रामWed, 21 Feb 2024 12:14 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने दो ऐसे आरोपियों को पकड़ा है जिन्होंने कई स्विगी डिलिवरी अकाउंट को हैक कर मुनाफा कमाया। आरोपियों में एक का नाम अनिकेत कालरा (25) जबकि दूसरे का नाम हिमांशु कुमार (23) है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों आरोपियों ने कथित तौर पर हैक किए अकाउंट के जरिए ऑर्डर दिए और बाद में इन्हें कम कीमतों पर बेच दिया। आरोपियों ने स्विगी खातों को हैक करने के लिए एक 'इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम' का इस्तेमाल किया। 

'द इंडियन एक्सप्रेस' के हवाले से हिन्दुस्तान टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अनिकेत कालरा पहले स्विगी और जोमैटो दोनों के लिए डिलीवरी बॉय के रूप में काम कर चुका है। डीसीपी (दक्षिण) अंकित कुमार ने सोमवार को बताया कि आरोपियों ने स्विगी खातों को हैक करने के लिए 'इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम' का इस्तेमाल किया। आरोपियों ने 'इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम' के जरिए ऑर्डर के लिए सिस्टम में हेरफेर किया। 

दोनों गिरफ्तारियां सुल्तानपुर में एक महिला की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर की गई हैं। शिकायतकर्ता ने आरोपियों द्वारा स्विगी से जुड़े उसके लेजी पे अकाउंट से रकम निकाले जाने की सूचना दी। शिकायत में कहा गया है कि आरोपियों महिला को 97,197 रुपये की चपत लगाई। पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए कॉल डिटेल और वित्तीय लेनदेन की जांच की। जांच से पता चला कि महिला को ऑटोमेटेड टेलीफोनी इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस (आईवीआर) सिस्टम से देर रात एक कॉल आई। 

इसमें उसे बताया गया कि कोई उसका अकाउंट हैक करने का प्रयास कर रहा है। इसके बाद उसके स्विगी अकाउंट के माध्यम से 97,197 रुपये के फर्जी ऑर्डर दिए गए। पुलिस ने जांच में पाया कि डिलीवरी गुड़गांव में की गई है। आरोपी फर्जी पते पर ऑर्डर ले रहे थे। इसके बाद पुलिस ने गुड़गांव में अनिकेत और हिमांशु को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक, अनिकेत कालरा ने कम कीमत पर ऑर्डर बेचने के लिए ऑनलाइन छूट का इस्तेमाल किया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें