ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली और पंजाब में करता था हथियारों की सप्लाई, पुलिस ने 10 पिस्टल के साथ पकड़ा

दिल्ली और पंजाब में करता था हथियारों की सप्लाई, पुलिस ने 10 पिस्टल के साथ पकड़ा

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली और पंजाब में हथियार और ड्रग्स सप्लाई करने वाले एक शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसके पास से 10 अवैध पिस्टल भी बरामद किया है। वह पहले भी जेल जा चुका है।

दिल्ली और पंजाब में करता था हथियारों की सप्लाई, पुलिस ने 10 पिस्टल के साथ पकड़ा
Subodh Mishraएएनआई,नई दिल्लीSun, 16 Jun 2024 07:53 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दिल्ली और पंजाब में हथियार और ड्रग्स सप्लाई करने वाले एक शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसके पास से 10 अवैध पिस्टल भी बरामद किया है। पुलिस ने बताया कि वह दिल्ली और पंजाब के अपराधियों को हथियार सप्लाई करता था। दिल्ली पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान 42 साल के तरुण मेहरा के रूप में हुई है। वह उत्तम नगर में रहता है। उसे रिंग रोड पर आईपी पार्क के मेन गेट के पास से गिरफ्तार किया गया।

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी प्रतिक्षा गोदरा ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि एक हथियार सप्लायर सफेद कार से रात साढ़े आठ से साढ़े नौ बजे के बीच आईपी पार्क के पास  पहुंचेगा। उसके पास कई अवैध हथियार भी है, जिसे वह सप्लाई करने वाला है। सूचना मिलने के बाद पुलिस की एक छापामार टीम तैयार कर मौके पर भेजी गई। जैसे ही वह सफेद कार से वहां पहुंचा, उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसकी कार की तलाशी लेने पर पुलिस को 10 अवैध पिस्टल मिले।

पूछताछ में मेहरा ने बताया कि ये हथियार उसने मध्य प्रदेश के बुरहानपुर से खरीदे थे और इन्हें पंजाब के अपराधियों को सप्लाई करना था। नेहरा ने बताया कि उसने 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई की है। इससे पहले वह अपने परिवार के साथ सोने के व्यापार में जुड़ा था। व्यापार में जबरदस्त घाटा होने और पिता की मौत के बाद वह नशे के अवैध कारोबार से जुड़ गया। उसे इस कारोबार में भटिंडा के विशाल नाम का युवक लेकर आया।

वह 2014 से उत्तम नगर में रह रहा है। वह लकी नाम के एक नाइजीरियन आदमी से ड्रग्स खरीदता था और पंजाब में सप्लाई करता था। पंजाब पुलिस ने 2017 और 2018 में उसे गिरफ्तार भी किया था। बेल पर जेल से बाहर निकलने के बाद वह फिर से इसी धंधे में लग गया। मेहरा ने बताया कि अमृतसर जेल में रहने के दौरान उसकी मुलाकात साहिल उर्फ कालू से हुई। कालू ड्रग्स और हथियार सप्लाई का काम करता था।

2022 में जेल से निकलने के बाद मेहरा ने बुरहानपुर के हथियार सप्लायर जेडी से संपर्क किया। उसके बाद वह महंगी कारों से दिल्ली और पंजाब में हथियारों की सप्लाई करने लगा। उसे चंडीगढ़ पुलिस नौकरी के नाम पर फर्जीवाड़ा करने के आरोप में भी गिरफ्तार कर चुकी है। उसके आपराधिक रिकॉर्ड में पहले से ही पांच मामले दर्ज हैं।

Advertisement