ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRडेटिंग एप पर प्यार, घर आकर करता लूटपाट; दिल्ली पुलिस ने 28 साल के शातिर चोर को किया गिरफ्तार

डेटिंग एप पर प्यार, घर आकर करता लूटपाट; दिल्ली पुलिस ने 28 साल के शातिर चोर को किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने 28 साल के एक शातिर चोर को गिरफ्तार किया है। आरोपी डेटिंग एप पर महिलाओं से बात करता फिर जब वे घर पर अकेली होती तो अपने दोस्त के साथ उनसे मिलने जाता। फिर लूटकर फरार हो जाता।

डेटिंग एप पर प्यार, घर आकर करता लूटपाट; दिल्ली पुलिस ने 28 साल के शातिर चोर को किया गिरफ्तार
police arrest 28 year old thief symbolic image
Sneha Baluniहिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीSat, 22 Jun 2024 10:59 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने 28 साल के एक लड़के और उसके साथी को गिरफ्तार किया है जो डेटिंग एप पर महिलाओं से बात करके उन्हे मिलने के लिए बुलाता था। महिलाओं के आने पर वह और उसका दोस्त उनके साथ लूटपाट करते थे। पुलिस ने बताया कि आरोपी राजधानी में हुईं चार डकैतियों में शामिल थे। जिनमें से एक रोहिणी में हुई थी, जहां एक जूलरी दुकान के मालिक को बंदूक की नोक पर लूटा गया था। डीसीपी (द्वारका) अंकित सिंह ने बताया कि आरोपियों की पहचान विपिन कमल कुमार और उसके सहयोगी राहुल सिंह के रूप में हुई है, दोनों मोहन गार्डन के रहने वाले हैं।

महिला की शिकायत पर हुआ गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि 31 मई को 28 साल की एक लड़की ने आई और बताया कि दो दिन पहले डेटिंग ऐप पर उसकी मुलाकात एक व्यक्ति से हुई, जिसने खुद को जतिन बताया और दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई। उसने कहा कि जब वह अकेली होगी तो वह उससे मिलने घर आएगा। 30 मई को लड़की ने उसे अपने घर बुलाया, लेकिन वह अपने दोस्त के साथ पहुंचा। एक अधिकारी ने बताया, 'आरोपी पीड़िता को उसके कमरे में ले गया, जहां उसने और उसके दोस्त ने उसके हाथ-पैर बांध दिए और उसके मुंह पर टेप लगा दिया। आरोपियों ने उसकी पिटाई की और उसके सोने के गहने, फोन और 5,000 रुपये कैश लूटकर ले गए।'

रोहिणी की महिला को भी लूटा

शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया और इंस्पेक्टर कमलेश कुमार के नेतृत्व में एक टीम ने इसकी जांच शुरू की। जांच के दौरान पुलिस ने पीड़िता के घर के पास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की और पाया कि दोनों संदिग्ध एक सफेद क्रेटा कार में आए थे। संदिग्ध के फोन नंबर के कॉल डिटेल रिकॉर्ड भी प्राप्त किए गए और उनका एनालिसिस किया गया। जिससे पता चला कि उसने रोहिणी में रहने वाली एक अन्य महिला से भी बात की थी। अधिकारी ने बताया कि आगे की जांच में पुलिस को पता चला कि संदिग्ध ने इसी तरीके से दूसरी महिला को भी लूटा था।

रोहिणी में रहने वाली 46 साल की महिला ने पुलिस को बताया कि वह अपने पति से अलग हो चुकी है। वह अपने दो स्कूल जाने वाले बच्चों के साथ रहती है। फरवरी में डेटिंग ऐप पर उसकी मुलाकात संदिग्ध से हुई और उसने खुद को सुनील नागी बताया। जब वह अकेली थी तब वह अपने साथी के साथ उसके घर आया और उसे बांध दिया। उसकी पिटाई की और लूटपाट करके चला गया। वह डर गई थी और बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंतित थी इसलिए उसने पुलिस में घटना की शिकायत नहीं की। हालांकि, बाद में 19 जून को उसने मामले की शिकायत की।

ऐसे पकड़े गए आरोपी

टेक्निकल और ह्यमून सर्विलांस की मदद से पुलिसकर्मियों ने सबसे पहले मंगलवार को राहुल को ट्रैक किया, जिसे सफदरजंग अस्पताल के बाहर से पकड़ा गया। डीसीपी सिंह ने बताया कि पूछताछ के दौरान राहुल ने विजय के बारे में जानकारी दी जिसे विपिन गार्डन से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान पता चला कि विजय को पहली बार 2016 में आनंद विहार में एक व्यक्ति से कैश लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद, उसे 2018 और 2020 में बंदूक की नोक पर जूसरी दुकानों में डकैती करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

2022 में ही उसे फिर से चोरी के स्कूटर की वजह से गिरफ्तार किया गया। डीसीपी सिंह ने कहा, 'दोनों ने इन सभी घटनाओं में अपनी संलिप्तता कबूल कर ली है। ​​उन्होंने यह भी खुलासा किया कि इस ऐप के जरिए वे आसानी से पैसे कमाने के लिए महिलाओं से कॉन्टैक्ट करते थे।'