Thursday, January 27, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRदिल्ली पुलिस और आईपीएस श्वेता चौहान भी कुछ नहीं कर सकतीं, ISIS कश्मीर ने गौतम गंभीर को तीसरी बार दी धमकी

दिल्ली पुलिस और आईपीएस श्वेता चौहान भी कुछ नहीं कर सकतीं, ISIS कश्मीर ने गौतम गंभीर को तीसरी बार दी धमकी

एएनआई,नई दिल्लीSneha Baluni
Sun, 28 Nov 2021 11:10 AM
दिल्ली पुलिस और आईपीएस श्वेता चौहान भी कुछ नहीं कर सकतीं, ISIS कश्मीर ने गौतम गंभीर को तीसरी बार दी धमकी

इस खबर को सुनें

बीजेपी से सांसद और पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर को आईएसआईएस कश्मीर ने तीसरी बार जान से मारने की धमकी दी है। 28 नवंबर की रात को उन्हें यह धमकी भरा ईमेल भेजा गया है। इस बार मेल में दिल्ली पुलिस का भी जिक्र किया गया है। कहा गया है कि उनकी सुरक्षा में लगी पुलिस भी कुछ नहीं कर पाएगी। 

पाकिस्तान के कराची से गंभीर को रविवार को एक ई-मेल भेजा गया है जिसमें उन्हें और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई है। मेल आईएसआईएस कश्मीर की आईडी से आया है। इस बार मेल में यह भी लिखा है कि 'दिल्ली पुलिस और आईपीएस श्वेता चौहान (डीसीपी (सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट) हैं) कुछ नहीं कर सकतीं।'

 

 

सूत्रों ने बताया की गंभीर को isiskasmir@yahoo.com से सुबह लगभग 1.37 बजे ईमेल मिली है। सूत्रों ने कहा, 'ईमेल में उन्होंने उल्लेख किया है कि दिल्ली पुलिस और आईपीएस श्वेता कुछ नहीं कर सकते। दिल्ली पुलिस के अंदर हमारे जासूस मौजूद हैं जो हमें तुम्हारे बारे में सारी जानकारी दे रहे हैं।'

डीसीपी चौहान को लिखे पत्र में, 'गंभीर के पीएस गौरव अरोड़ा ने 24 नवंबर को कहा था, 'हमें आज रात 9.32 बजे एमपी (गंभीर) सर के आधिकारिक ईमेल पर आईएसआईएस कश्मीर से एक ईमेल मिला है। मेल में सांसद और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी का जिक्र है। मैं अनुरोध करता हूं कि कृपया मामले को देखें और प्राथमिकी दर्ज करें। मैं आपसे यह भी अनुरोध करता हूं कि उनकी सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं।'

बता दें कि गौतम गंभीर को हाल के दिनों में आईएसआईएस कश्मीर से दो बार जान से मारने की धमकी वाले ई-मेल आ चुके हैं। इसके बाद बीजेपी सांसद के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। गंभीर को पहले जो ई-मेल भेजे गए थे, उनकी साइबर सेल जांच कर रही है। बताया जा रहा है कि उन्हें पाकिस्तान के कराची से मेल भेजे गए हैं।

दूसरे ईमेल के साथ गंभीर के घर के बाहर का एक वीडियो भेजा गया था। हालांकि जांच में पुलिस ने पाया था कि ये उनके घर के बाहर शूट किया गया पुराना वीडियो है। फिर भी मेल के आईपी एड्रेस का पता लगाने के लिए गूगल को एक ईमेल भेजा गया। सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट पुलिस की साइबर सेल टीम ने स्पेशल सेल के साथ समन्वय के बाद पाया कि ईमेल कराची के एक शख्स ने भेजा था।

epaper

संबंधित खबरें