ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRDelhi-Noida Border : दिल्ली-नोएडा रूट पर डेढ़ महीने मिलेगा भीषण जाम, चिल्ला बॉर्डर के रास्ते पर एक लेन होगी बंद

Delhi-Noida Border : दिल्ली-नोएडा रूट पर डेढ़ महीने मिलेगा भीषण जाम, चिल्ला बॉर्डर के रास्ते पर एक लेन होगी बंद

अगर आप भी दिल्ली-नोएडा को जोड़ने वाले चिल्ला बॉर्डर के रास्ते सफर करते हैं तो अब सावधान हो जाइए। इस रूट पर आपको अगले एक से डेढ़ महीने तक हर रोज भीषण जाम से जूझना पड़ सकता है।

Delhi-Noida Border : दिल्ली-नोएडा रूट पर डेढ़ महीने मिलेगा भीषण जाम, चिल्ला बॉर्डर के रास्ते पर एक लेन होगी बंद
Praveen Sharmaनोएडा। हिन्दुस्तानSun, 28 May 2023 06:11 AM
ऐप पर पढ़ें

अगर आप भी दिल्ली-नोएडा को जोड़ने वाले चिल्ला बॉर्डर पर सफर करते हैं तो सावधान हो जाइए। इस रूट पर आपको अगले एक से डेढ़ महीने तक हर रोज भीषण जाम से जूझना पड़ सकता है। दरअसल, भारत में होने जा रहे जी-20 समिट और उससे जुड़े कार्यक्रमों को लेकर नोएडा के सेक्टर-14ए स्थित नोएडा प्रवेश द्वार का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इसके लिए नोएडा से दिल्ली जाने वाले रास्ते पर एक लेन बंदकर काम होगा। ऐसे में अगले एक से डेढ़ महीने तक चिल्ला बॉर्डर से नोएडा से दिल्ली आने-जाने वाहन चालकों को जाम का सामना करना पड़ेगा। अगले कुछ दिन में लेन बंद कर काम शुरू होगा।

नोएडा प्राधिकरण पुराने बने प्रवेश द्वार का सौंदर्यीकरण करा रहा है। इसी क्रम में काफी सालों पहले बने नोएडा प्रवेश द्वार को खूबसूरत बनाया जाएगा। अभी साइड के पिलर पर सौंदर्यीकरण के काम की शुरुआत कर दी गई है। यह प्रवेश द्वार चिल्ला बॉर्डर की लालबत्ती के काफी नजदीक है।

अधिकारियों ने बताया कि पहले चरण में नोएडा से दिल्ली जाने वाले रास्ते पर काम होगा। सड़क के बीचों-बीच करीब पांच फीट हिस्से में शटरिंग लगाई जाएगी। यह शटरिंग 20-30 मीटर हिस्से में लगाई जाएगी। इस हिस्से में वाहनों के लिए एक लेन बंद रहेगी। शटरिंग के दोनों ओर एक-एक लेन में वाहन दिल्ली की ओर जाएंगे।

बेशक 30 मीटर हिस्से में ही एक लेन बंद होगी, उसका असर नोएडा के हिस्से में कई किलोमीटर तक पड़ेगा। 20-25 दिन बाद इसी तरह दिल्ली से नोएडा आने वाले रास्ते पर काम होगा। इस बारे में यातायात निरीक्षक रामसिंह का कहना है कि प्राधिकरण की तरफ से काम शुरू करने का पत्र आया है।

वाहन चालक अपना सकते हैं यह रास्ता

नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे-डीएनडी की ओर आकर चिल्ला बॉर्डर होते हुए अक्षरधाम की ओर जाने वाले वाहन नोएडा प्रवेश द्वार से पहले बने सेक्टर-14 फ्लाईओवर का प्रयोग कर सकते हैं। फ्लाईओवर पार करने के बाद सेक्टर-14 के सामने बने यू-टर्न से मुड़कर फिर से इस फ्लाईओवर का प्रयोग कर प्रवेश द्वार से आगे चिल्ला बॉर्डर की लालबत्ती पर पहुंच गंतव्य को जा सकते हैं।

फ्लाईओवर पर जाम में कमी लाने को रिपोर्ट मांगी

चिल्ला रेगुलेटर से महामाया फ्लाईओवर तक जाम में कमी लाने के लिए कंपनी की ओर से दिए गए तीन विकल्पों की विस्तृत रिपोर्ट सीईओ ने मांगी है। जाम में कितनी कमी आएगी, इसकी विस्तृत रिपोर्ट कंपनी से सीईओ ने मांगी है। कंपनी ने सड़क चौड़ीकरण का सुझाव दिया है। पूरे रास्ते पर एक लेन अतिरिक्त बन जाने के लिए कहा है। सेक्टर-14ए नोएडा प्रवेश द्वार (चिल्ला रेगुलेटर) से महामाया फ्लाईओवर तक जाम रहता है। प्राधिकरण ने सर्वे कराने के लिए एक कंपनी का चयन किया था। कंपनी ने प्राथमिक रिपोर्ट दे दी है। इस रिपोर्ट में पूरी जानकारी न होने का हवाला देते हुए सीईओ ने वापस कर दी है।

भंगेल एलिवेटेड रोड की अतिरिक्त लागत की जांच होगी

वहीं, डीएससी (दादरी-सूरजपुर-छलेरा) रोड पर बन रहे भंगेल एलिवेटेड रोड की अतिरिक्त लागत को लेकर अब आईआईटी दिल्ली से जांच कराई जाएगी। अगर आईआईटी अतिरिक्त लागत को जायज ठहराता है तो नोएडा प्राधिकरण इसको मंजूर करने को लेकर विचार करेगा। भंगेल एलिवेटेड रोड के निर्माण की लागत शुरूआत में 468 करोड़ रुपये तय हो रखी है। इसका काम आठ जून 2020 में शुरू हुआ था। एलिवेटेड रोड के निर्माण का जिम्मा उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम लिमिटेड के पास है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें