ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली-नोएडा आने-जाने वालों को बड़ी राहत, महामाया फ्लाईओवर से चिल्ला बॉर्डर तक चौड़ी होगी सड़क

दिल्ली-नोएडा आने-जाने वालों को बड़ी राहत, महामाया फ्लाईओवर से चिल्ला बॉर्डर तक चौड़ी होगी सड़क

नोएडा में महामाया फ्लाईओवर से चिल्ला बॉर्डर तक सड़क चौड़ीकरण का काम अक्टूबर से शुरू करा दिया जाएगा। इसके अलावा एक्सप्रेसवे का विकल्प तैयार करने के लिए जल्द ही सलाहकार तय कर दिया जाएगा।

दिल्ली-नोएडा आने-जाने वालों को बड़ी राहत, महामाया फ्लाईओवर से चिल्ला बॉर्डर तक चौड़ी होगी सड़क
Praveen Sharmaनोएडा। हिन्दुस्तानTue, 29 Aug 2023 07:01 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा में महामाया फ्लाईओवर से चिल्ला बॉर्डर तक सड़क चौड़ीकरण का काम अक्टूबर से शुरू करा दिया जाएगा। इसके अलावा एक्सप्रेसवे का विकल्प तैयार करने के लिए जल्द ही सलाहकार तय कर दिया जाएगा। नोएडा विकास प्राधिकरण ने सोमवार को यह फैसला लिया। नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे और फिल्म सिटी मार्ग पर जाम की समस्या को आपके अपने समाचार पत्र ‘हिन्दुस्तान’ ने हाल में प्रमुखता से उठाया था।

शहर में जाम की समस्या बढ़ती जा रही है। नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे और फिल्म सिटी मार्ग पर सबसे अधिक परेशानी हो रही है और तीन से चार घंटे बर्बाद हो रहे हैं। यहां लगने वाले जाम की पांच वजह सामने आई हैं, जिनमें वाहनों की संख्या के हिसाब से सड़क की चौड़ाई कम होना, चार-पांच जगह बॉटलनेक, दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को हटाने में देरी, एफएनजी का काम बंद पड़ा होना, यमुना पुश्ते की सड़क खराब होना आदि कारण हैं। इन्हीं बिंदुओं पर लोगों की समस्याओं के साथ खबरें प्रकाशित की गईं।

नोएडा प्राधिकरण के डीजीएम श्रीपाल भाटी ने कहा कि महामाया से चिल्ला बॉर्डर तक सड़क चौड़ीकरण को लेकर कंपनी सर्वे रिपोर्ट फाइनल कर चुकी है। इसी सप्ताह सर्वे रिपोर्ट को लेकर प्रस्तुतिकरण कराया जाएगा। इसके बाद इसी महीने के अंत तक टेंडर प्रक्रिया पूरी कर अगले महीने के मध्य तक काम शुरू करा दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि चौड़ीकरण का काम शुरू होने के बाद पूरा होने में तीन-चार महीने का समय लगेगा। ऐसे में नए साल में जनवरी से यहां जाम से काफी राहत मिलेगी। यमुना पुश्ते पर सड़क ठीक करने के लिए सिंचाई विभाग के जरिए काम भी अक्टूबर में शुरू करा दिया जाएगा।

एक्सप्रेसवे के लिए सलाहकार तय होगा

ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर अभी करीब पौने दो से दो लाख के बीच वाहन निकल रहे हैं। अगले कुछ सालों में यह छोटा पड़ने लगेगा। ऐसे में इसका विकल्प तैयार करने के लिए सितंबर में सलाहकार का चयन कर आगे की प्रक्रिया की जाएगी। 

एक्सप्रेसवे पर क्रेन बढ़ाई जाएंगी

चिल्ला बॉर्डर से लेकर पूरे नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को हटाने के लिए सिर्फ एक क्रेन और एक हाइड्रा है। रोजाना हो रहे हादसे और वाहनों की संख्या के मुकाबल यह संसाधन कम है। ऐेसे में वाहनों को हटाने में एक से तीन-चार घंटे तक लग जाते ,हैं जिससे लंबा जाम लग जाता है। डीसीपी यातायात का कहना है कि प्राधिकरण से और क्रेन की मांग की जाएगी। एक्सप्रेसवे के लिए एक और क्रेन की व्यवस्था कराई जाएगी।

- डॉ. लोकेश एम, सीईओ, नोएडा विकास प्राधिकरण, ''जाम की समस्या दूर करना प्राधिकरण की प्राथमिकता में है। एक्सप्रेसवे और फिल्म सिटी रास्ते पर लगने वाले जाम को दूर करने के लिए जल्द काम शुरू कराया जाएगा।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें