ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सलाहकार के खिलाफ केस दर्ज, घोटाले के आरोप, केंद्र पर बरसी AAP

दिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सलाहकार के खिलाफ केस दर्ज, घोटाले के आरोप, केंद्र पर बरसी AAP

एसीबी ने दिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सलाहकार रहे अंकित श्रीवास्तव के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वहीं इसे लेकर आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला बोला है। पढ़ें यह रिपोर्ट...

दिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सलाहकार के खिलाफ केस दर्ज, घोटाले के आरोप, केंद्र पर बरसी AAP
Krishna Singhहिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 16 May 2024 12:01 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सलाहकार रहे अंकित श्रीवास्तव के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) ने मामला दर्ज किया है। दिल्ली जल बोर्ड द्वारा दिए गये ठेकों में करोड़ों रुपये के घोटाले का आरोप उन पर लगा है। आरोप है कि बिना वास्तविक काम के ही करोड़ों रुपये के बिल का भुगतान कर दिया गया। इस मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित की गई है। भ्रष्टाचार निरोधक शाखा के सूत्रों ने बताया कि अंकित श्रीवास्तव को गलत तरीके से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के दफ्तर में नियुक्त किया गया था। 

अपने ही ससुर को टेंडर देने का आरोप
आरोप है कि अंकित ने रोहिणी एसटीपी में बनाए गए जलाशय में गलत तरीके से अपने ही ससुर को टेंडर दिया। बिल में बताया गया कि मौके पर भारी मशीन काम करने गई थी, लेकिन इसका पंजीकरण नंबर कार का निकला। इससे यह साफ हुआ कि मौके पर कोई भारी मशीन नहीं गई थी और फर्जी बिलों की वजह से सरकार को 2.16 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। 

बदनाम करने के लिए दर्ज हो रहे झूठे केस 
दिल्ली जल बोर्ड में पूर्व सलाहकार अंकित श्रीवास्तव के खिलाफ एसीबी में दर्ज केस पर आम आदमी पार्टी ने पलटवार करते हुए पूरे मामले को झूठा बताया है। आप के मुताबिक भाजपा शासित केंद्र सरकार के अधीन आने वाली जांच एजेंसियां जैसे सीबीआई, ईडी, एसीबी और सतर्कता विभाग भाजपा के प्रवक्ता की तरह काम कर रहे हैं। दिल्ली में 25 मई को चुनाव होने है, भाजपा दिल्ली की सभी 7 सीटों पर हार देखकर हताश है। इसलिए जांच एजेंसियों को बदनाम करने के लिए झूठे केस दर्ज कर रही है।

रची जा रहीं झूठी कहानियां 
आम आदमी पार्टी ने कहा कि भारत व दिल्लीवालों को अब पता है कि यह सिर्फ झूठी कहानियां रची जा रही है। जांच एजेंसियों को बी ग्रेड फिल्म स्क्रिप्ट राइटर में बदल लिया है। केंद्र सरकार की ये जांच एजेंसियां शीर्ष अदालत में रोजाना बेनकाब हो रही हैं। ये जांच एजेंसियां सिर्फ मीडिया में गढ़ी गई फर्जी कहानियों का इस्तेमाल करके भाजपा के खिलाफ किसी को भी बदनाम किया जा सकता है। यह इतना आम हो गया है कि लोगों ने ऐसी फालतू कहानियों पर ध्यान देना बंद कर दिया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें