ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRरोजगार और साफ-सफाई के मुद्दे पर महिलाओं ने डाला वोट, MCD चुनाव में दिव्यांगों ने भी दिखाया दम

रोजगार और साफ-सफाई के मुद्दे पर महिलाओं ने डाला वोट, MCD चुनाव में दिव्यांगों ने भी दिखाया दम

पटपड़गंज निवासी 30 वर्षीय शिरोमणि ने कहा कि बढ़ती मंहगाई के मुद्दे पर मतदान किया है। झुग्गी में रहती हूं। साफ-सफाई बहुत जरूरी है। इसलिए इन दिक्कतों के समाधान के लिए मैंने मतदान किया है।

रोजगार और साफ-सफाई के मुद्दे पर महिलाओं ने डाला वोट, MCD चुनाव में दिव्यांगों ने भी दिखाया दम
Nishant Nandanहिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 05 Dec 2022 06:44 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

MCD Election: दिल्ली की युवा और गृहणी महिलाओं ने साफ-सफाई से लेकर बढ़ती महंगाई के मुद्दे को लेकर वोट किया। युवा महिलाओं के बीच निगम चुनाव में रोजगार का मुद्दा भी नजर आया। साथ ही बरसात के मौसम में इलाके में होने वाली जलभराव को लेकर महिलाओं ने अपने परेशानी को व्यक्त किया। जामिया नगर की आशा शर्मा ने कहा कि देश में रोजगार की समस्या बढ़ती जा रही है। सरकार को हर स्तर पर रोजगार के अवसर पैदा करने चाहिए। जिससे युवाओं के लिए अवसर बढ़ सकें। रोजगार के अवसर बढ़ेंगे तो देश में विकास भी होगा। इसलिए इस बार दिल्ली में वोट विकास के लिए दिया है।

वहीं, शाहदरा पंचशील पार्क निवासी साधना पराशर ने कहा कि बारिश के मौसम में इलाके में जलभराव की समस्या होती है। निगम को इस परेशानी को दूर करने की जरूरत है। उसी को ध्यान में रखकर अपना वोट किया है। हर महिला को मतदान करना चाहिए। पटपड़गंज निवासी 30 वर्षीय शिरोमणि ने कहा कि बढ़ती मंहगाई के मुद्दे पर मतदान किया है। झुग्गी में रहती हूं। साफ-सफाई बहुत जरूरी है। इसलिए इन दिक्कतों के समाधान के लिए मैंने मतदान किया है।

दिव्यांग मतदाताओं में जोश

मतदान केंद्रों पर दिव्यांगों ने भी मतदान का दम दिखाया। कई केंद्र पर दिव्यांगों के लिए व्हील चेयर की व्यवस्था थी। वहीं कई ऐसे भी जगह थे जहां उबड़-खाबड़ रास्तों से होकर मतदान पहुंचना पड़ा। लेकिन यह उनके उत्साह को कम नहीं कर पाया। दिव्यांग मतदाताओं के साथ उनके परिवार के लोग भी साथ दिखे। पेंशन न मिलने से लेकर साफ-सफाई सहित कई दूसरे मुद्दों को ध्यान में रखते हुए दिव्यांगों ने मतदान किया। बुराड़ी में वोट डालने पहुंचे दिव्यांग महेंद्र दर्शन ने कहा कि विकास के नाम पर इलाके में कुछ नहीं हुआ है।

दिव्यांग श्रेणी के लोगों को जो पेंशन दी जाती है, वह भी नहीं मिली है। इनमें सुधार की उम्मीद से वोट किया है। वोट डालने पहुंचे अलीपुर के सीताराम ने कहा कि निगम द्वारा दिव्यांगों के लिए कोई सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जाती है। दूर-दूर तक कोई शौचालय भी नहीं है। इसमें सुधार की उम्मीद से वोट दिया है।