ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली को नहीं मिला पानी तो खाना छोड़ेंगी आतिशी, पीएम को लेटर लिख अनशन का ऐलान

दिल्ली को नहीं मिला पानी तो खाना छोड़ेंगी आतिशी, पीएम को लेटर लिख अनशन का ऐलान

जल मंत्री आतिशी ने इस चिट्ठी में आतिशी ने पीएम मोदी से कहा है कि अगर 21 जून तक दिल्ली में पानी की समस्या का समाधान नहीं किया गया तो वो 21 जून से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर चली जाएंगी। 

दिल्ली को नहीं मिला पानी तो खाना छोड़ेंगी आतिशी, पीएम को लेटर लिख अनशन का ऐलान
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 19 Jun 2024 01:06 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में पानी को लेकर त्राहिमाम की स्थिति है। कई वीआईपी इलाकों में भी पानी की जबरदस्त किल्लत हो गई है। इस बीच अब दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पानी के मुद्दे पर चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में आतिशी ने पीएम मोदी से कहा है कि अगर 21 जून तक दिल्ली में पानी की समस्या का समाधान नहीं किया गया तो वो 21 जून से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर चली जाएंगी।

आतिशी ने कहा कि दिल्ली में भीषण गर्मी की स्थिति है। यहां दिन का तापमान 47 और 48 डिग्री के आसपास रह रहा था तो वहीं रात में भी तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रह रहा है। इस भीषण गर्मी में पानी की जरुरत हर व्यक्ति को है। आज दिल्ली वालों को ज्यादा पानी की जरुरत है। लेकिन जिस समय दिल्ली वालों को ज्यादा पानी की जरुरत है ऐसे समय में दिल्ली वालों को पानी की कमी हो गई है। हमें यह समझना होगा कि दिल्ली में कुल पानी की सप्लाई 1050mgd है। इस 1050mgd में से 650mgd हरियाणा से आता है और यमुना में जाता है। 

18 जून को हरियाणा से जो पानी आया है वो घटकर 513mgd हो चुका है यानी 100mgd पानी की कमी आज दिल्ली में है। 1एमसीडी पानी करीब 28,500 लोगों को पानी देता है। यानी अगर दिल्ली को हरियाणा से 100एमसीजी पानी कम मिल रहा है तो इसका मतलब यह है कि 28 लाख लागों को पानी कम मिल रहा है।

पानी के लिए हमने हर संभव प्रयास किए - आतिशी

आतिशी ने कहा कि दिल्ली के लोग आज काफी परेशान हैं। दिल्ली के लोगों की परेशानी को दूर करने के लिए हमने हर संभव प्रयास किए। मैंने हरियाणा के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा। लेकिन हरियाणा ने फिर भी पानी नहीं छोड़ा। मैंने हिमाचल के मुख्यमंत्री से बात की तो उन्होंने कहा कि वो हिमाचल से पानी देने को तैयार हैं। लेकिन वो पानी भी हरियाणा से होकर ही आना है। हरियाणा ने हिमाचल का पानी भी देने से मना कर दिया। मैं सुप्रीम कोर्ट गई। मैंने सुप्रीम कोर्ट के सामने गुहार लगाई कि दिल्ली को इस 100एमजीडी पानी की जरुरत है वरना दिल्ली के 28 लाख लोगों को पानी नहीं मिल सकेगा। सुप्रीम कोर्ट ने भी माना है कि दिल्ली में पानी का संकट है लेकिन इसके बावजूद हरियाणा सरकार ने दिल्ली को पानी नहीं दिया। 

हद पार कर चुका है दिल्ली वालों का कष्ट- आतिशी

दिल्ली सरकार के सारे उच्च अधिकारी हरियाणा सरकार के अफसरों से मिलने  गए और उन्होंने दिल्ली के 28 लाख लोगों को पानी देने के लिए कहा लेकिन हरियाणा ने पानी देने से मना कर दिया। दिल्ली में तीन करोड़ लोग रहते हैं और तीन करोड़ लोगों को कुल पानी मिला है 1050 एमजीडी है। हरियाणा में 3 करोड़ लोग रहते हैं लेकिन हरियाणा में 6050एमजीडी पानी दिया जाता है। हमारी हर संभव कोशिश के बाद हरियाणा सरकार दिल्ली को पानी नहीं देती। अब दिल्ली वालों का कष्ट हद पार कर चुका है। वो घंटों-घंटों तक पानी का इंतजार कर रहे हैं लेकिन फिर भी हरियाणा सरकार दिल्ली को पानी नहीं दे रही है। 

PM से चिट्ठी में क्या कहा

आतिशी ने कहा, 'मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आज चिट्ठी लिखी है। मैंने उनसे आग्रह किया है कि अब दिल्ली वालों का कष्ट हर सीमा को पार कर गया है। मैंने पीएम से निवेदन किया है कि वो दिल्ली के लोगों को पानी दिलवाए। वो चाहे यह पानी हरियाणा से दिलवाएं या कहीं से दिलवाएं लेकिन दिल्ली वालों को वो पानी दिलवाएं।' आतिशी ने कहा, 'अगर दिल्ली वालों को 21 जून तक अपने हक का पानी नहीं मिला तो फिर इस दिन से मुझे मजबूरी में पानी के लिए सत्याग्रह शुरू करना पड़ेगा। जब तक दिल्ली वालों को उनका पानी नहीं मिल जाता मैं अनिश्चितकालनी भूख हड़ताल पर बैठ जाऊंगी।'